Russia Ukraine Crisis LIVE Updates: यूक्रेन में रूसी हमले का तीसरा दिन, राजधानी कीव में नहीं थम रहे धमाके

रूस यूक्रेन संकट लाइव अपडेट: साथ ही, नाटो प्रमुख ने कहा कि सदस्य राज्यों के नेताओं ने सहयोगियों की रक्षा के लिए तुरंत रूस और यूक्रेन में सेना भेजने पर सहमति व्यक्त की थी।

रूस, यूक्रेन संकट लाइव अपडेट: यूक्रेन में रूसी मिशन का आज तीसरा दिन है। वर्तमान में, मास्को राजधानी कीव के अनुरूप है। इस दौरान वहां कई धमाकों की आवाज भी सुनाई दी। उसी समय, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में रूस के खिलाफ 11 मतों के साथ अविश्वास प्रस्ताव जोड़ा गया था। हालांकि, भारत, चीन और संयुक्त अरब अमीरात इस वोट से दूर रहे।

वहीं, यूरोपीय संघ (ईयू) रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव की संपत्ति को फ्रीज करने और अन्य प्रतिबंध लगाने पर सहमत हो गया है। लातवियाई विदेश मंत्री ने यह जानकारी दी। पुतिन और लावरोव की संपत्ति को जब्त करने के फैसले का मतलब है कि पश्चिम यूक्रेन पर रूस के हमले और यूरोप में एक बड़े युद्ध को रोकने के लिए अभूतपूर्व कदम उठा रहा है।

लातवियाई विदेश मंत्री एडगर्स रिंकेविक्स ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों ने प्रतिबंधों के दूसरे पैकेज को मंजूरी दे दी है और जमी हुई संपत्ति में रूसी राष्ट्रपति और विदेश मंत्री की संपत्ति शामिल है। उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ प्रतिबंधों का एक और पैकेज भी तैयार कर रहा है।

वहीं, रूस के देश पर आक्रमण और सुरक्षित स्थानों की तलाश में पश्चिमी सीमा से लगे देशों में प्रवेश करने के बाद हजारों लोग यूक्रेन से भाग रहे हैं। कुछ सीमावर्ती चौराहों पर कई किलोमीटर तक कारों की कतार लग रही है। पोलैंड, स्लोवाकिया, हंगरी, रोमानिया और मोल्दोवा के अधिकारी उनका स्वागत करने के लिए तैयार हैं।

वे यूक्रेन के लोगों को आवास, भोजन और कानूनी सहायता प्रदान करते हैं। उन्होंने सीमा पर सामान्य प्रक्रिया को भी आसान बनाया है। कोविड जांच कराने से भी छूट दी गई है।

लाइव अपडेट

रूसी हमले के कारण यूक्रेन में अब संकट की स्थिति कैसी है? यहां आप पल पल के लाइव अपडेट देख सकते हैं:

आपको बता दें कि रूसी सैनिकों ने शुक्रवार को यूक्रेन की राजधानी कीव पर हमला किया था। सरकारी इमारतों के पास गोलियों और विस्फोटों की गूंज सुनाई दी। रूस की इस कार्रवाई से यूरोप में बड़े युद्ध की आशंका पैदा हो गई है और साथ ही इसे रोकने के लिए दुनिया भर में प्रयास शुरू हो गए हैं। सैकड़ों लोगों के युद्ध में मारे जाने की खबरों के बीच कीव में इमारतों, पुलों और स्कूलों के सामने गोलीबारी और विस्फोट की घटनाएं भी हुई हैं। ऐसे संकेत भी बढ़ रहे थे कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेनी सरकार को उखाड़ फेंकने की कोशिश कर रहे थे।

पश्चिमी नेताओं ने एक संकट बैठक का आह्वान किया है और यूक्रेन के राष्ट्रपति ने ऐसे हमलों को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय मदद की मांग की है क्योंकि उन्हें डर है कि रूस उनकी लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को उखाड़ फेंक सकता है। यूक्रेन भारी नुकसान का कारण बन सकता है और वैश्विक अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा सकता है। रूस के हमले का दूसरा दिन यूक्रेन की राजधानी पर केंद्रित था, जहां एसोसिएटेड प्रेस के पत्रकारों ने भोर से पहले विस्फोटों की आवाज सुनी और कई क्षेत्रों से गोलीबारी की सूचना मिली।

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes