PM-SYM Pension Scheme : मज़दूरों के खातें में हर महीने आएँगे 3 हज़ार, जानें कैसे पाएँ

पीएम-एसवाईएम पेंशन योजना: भारत सरकार असंगठित क्षेत्र से जुड़े लोगों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए कई महत्वाकांक्षी योजनाओं (पीएम श्रम पेंशन योजना) को लागू कर रही है। इसी कड़ी में आज हम बात करने जा रहे हैं प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के बारे में। पेंशन योजना विशेष रूप से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए डिज़ाइन की गई है। सरकार द्वारा लागू की गई योजना श्रमिकों के भविष्य को सुनिश्चित करती है।

पीएम-एसवाईएम पेंशन योजना

पीएम-एसवाईएम पेंशन योजना

पीएम एसवाईएम पेंशन योजना

इस प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में निवेश करने से आपको आजीवन पेंशन का लाभ मिलेगा। अगर आपकी उम्र 18 साल है तो आपको इस पीएम लेबर पेंशन स्कीम में हर महीने 55 रुपये जमा करने होंगे। यानी आपको रु. 1.80 का निवेश करने पर कर्मचारी को 60 साल बाद 3,000 रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी। ऐसे में इस योजना में निवेश करने से श्रमिकों और श्रमिकों का भविष्य आर्थिक रूप से सुरक्षित होगा। इस कड़ी में आइए जानें कि यह पेंशन योजना किसे मिलती है और किसे मिल सकती है?

असंगठित क्षेत्र का कोई भी कर्मचारी और कर्मचारी जो ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य नहीं है। वह प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ उठा सकते हैं। वहीं, ईपीएफओ, ईएसआईसी, राष्ट्रीय पेंशन योजना के सदस्य इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे। इसके अलावा, आयकर का भुगतान करने वाले कर्मचारी भी इस पीएम श्रम पेंशन योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना

निर्माण श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, रेहड़ी-पटरी वाले, घरेलू कामगार, कृषि श्रमिक और कोई भी अन्य श्रमिक जो ईएसआईसी और ईपीएफओ के सदस्य नहीं हैं, इस पेंशन योजना का लाभ उठा सकते हैं। यह पीएम श्रम पेंशन योजना विशेष रूप से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए बनाई गई है। प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया बहुत ही सरल है। इससे आपको कोई दिक्कत नहीं होगी। आप मानधन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस योजना के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

वर्ष 2019 में केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की शुरुआत की थी। PMSYM असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की सामाजिक सुरक्षा के लिए एक सरकारी योजना है। इस योजना की मदद से सरकार देश के श्रमिकों को प्रति माह 3000 रुपये की पेंशन देती है। तो आइए जानते हैं इस पीएम श्रम पेंशन योजना के बारे में विस्तार से-

आवेदन करने का तरीका जानें: पीएम-एसवाईएम पेंशन योजना

  • maandhan.in/ sramyogi पर पीएम श्रम पेंशन योजना में लॉग इन करें।
  • होम पेज पर ‘क्लिक हियर टू अप्लाई नाउ’ लिंक पर क्लिक करें और फिर सेल्फ रजिस्टर पर क्लिक करें।
  • अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें और जारी रखें पर क्लिक करें।
  • अब आवेदक का नाम, ईमेल आईडी, कैप्चा कोड भरने के बाद ओटीपी आएगा और उसे भर देगा।
  • आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें। फॉर्म सबमिट करने के बाद यह सुनिश्चित कर लें कि वह प्रिंट हो गया है।

3000 प्रति माह उपलब्ध हैं

पीएम श्रम पेंशन योजना के तहत देश के 42 करोड़ कामगारों को फायदा होगा। इस योजना के तहत 18 से 40 साल के बीच के मजदूर आवेदन कर सकते हैं, जिन्हें 60 साल की उम्र तक 55 से 200 रुपये हर महीने किश्तों में चुकाने होते हैं। श्रमिकों को 60 वर्ष की आयु के बाद ही पेंशन मिलना शुरू होती है। इस योजना के तहत, 60 वर्ष से अधिक आयु के श्रमिक रुपये के मासिक वजीफे के हकदार हैं। 3,000 जो रु। 36 हजार तक पहुंचें। सभी पात्र श्रमिक इस प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ उठा सकते हैं !

यह भी पढ़ें- ई श्रम कार्ड पेंशन क्रेडिट: श्रमिकों के बैंक खाते में 1000 रुपये, पता करें कि अगली किस्त कब आएगी

इंडिया पोस्ट एमआईएस कैलकुलेटर 2022: पोस्ट ऑफिस एमआईएस में कैलकुलेटर का उपयोग कैसे करें

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes