Sauchalay Online Registration – शौचालय बनाने के लिए 12,000 रु पाए।


Sauchalay Online Registration|शौचालय निर्माण के लिए आवेदन कैसे करें|शौचालय योजना ऑनलाइन फॉर्म|sauchalay online form gramin|sochalay yojana list|शौचालय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020

Sauchalay Online Registration Form 2020 : देश में ऐसे बहुत से गरीब है, जो आर्थिक तंगी के कारण अपना शौचालय बनवाने में असमर्थ है. ऐसे गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों के लिए स्वच्छ भारत अभियान के तहत सहायता राशि दी जाती है, ताकि वह अपने घर में शौचालय बनवा सके, और अपने गाँव तथा शहर को स्वच्छ रख सके. स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकार पात्र लोगों को 12000 रूपए की धनराशि प्रदान कर रही है.

Sauchalay Online Registration – शौचालय बनाने के लिए 12,000 रु पाए।

अगर आप शौचालय निर्माण के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो इस इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय बनवाने हेतु ऑनलाइन ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें ? आवेदन करने के बाद, स्थानीय निकाय द्वारा भौतिक सत्यापन किया जाएगा. पात्र होने पर पर आपको राशि मिल जायेगी. यह सहायता राशि किस्तों के रूप में सीधे आपके बैंक खाते में हस्तांतरित की जायेगी. इसलिए प्रार्थी का बैंक खाता होना भी आवश्यक है.

Sauchalay Online Registration 2020

Article Categoryशौचालय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
StateAll State
DepartmentDepartment Of Drinking Water And Sanitaion Ministry Of Jal Shakti Govt. Of India
Year2020
Official Websiteswachhbharaturban.gov.in
ContactContact Us

शौचालय बनवाने के लिए आवेदन करने की जरुरी योग्यता

शौचालय निर्माण करने हेतु सरकार द्वारा कुछ जरूरी मापदंड निर्धारित किये है, यदि आप इन पात्रता मापदंडों को पूरा करते हैं तभी आपको इस योजना का लाभ दिया जाएगा|

  • यह योजना के लिए वे ही लोग आवेदन कर सकते है, जो नए शौचालय बनाना चाहते हैं।
  • यह योजना का लाभ लेने के लिए वे ही व्यक्ति योग्य होंगे, जो की गरीबी रेखा के नीचे आते हैं।
  • यह योजना के लिए वह लोग पात्र नहीं होंगे जिन्होंने पहले शौचालय बना लिया है और फिर से शौचालय बनाना चाहते हैं।

शौचालय निर्माण हेतु आवश्यक दस्तावेज

अगर आप स्वच्छ भारत अभियान योजना के अंतर्गत शौचालय बनवाने हेतु आवेदन कर रहे हैं तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है :-

  • आधार कार्ड|
  • बैंक पासबुक
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो|
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आई

फ्री शौचालय बनवाने हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (HOW TO APPLY ONLINE TO MAKE FREE TOILETS)

  • FREE Sauchalay Online Apply करने हेतु आप ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करें
  • इसके बाद New Applicant Click Here पर क्लिक करें
  • अब इसके बाद Sauchalay Online Registration Form भरे और रजिस्टर के बटन पर क्लिक करें
  • रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको एक यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा अब ID और पासवर्ड से लॉगिन करें
  • लॉगिन होने के बाद आपके सामने आपका फॉर्म खुल जाएगा अब आपको इस फॉर्म को पूरा भरना है |
  • इसमें मांगी गई सभी जानकारी आपको अच्छी तरह पढ़कर भरनी है|
  • इसमें आपको एक बात का ध्यान रखना है जो भी आप आधार नंबर यहां पर दें और जो भी यहां पर अपना अकाउंट नंबर डालें उससे आपका आधार कार्ड लिंक होना चाहिए अगर लिंक नहीं होगा तो आपको सब्सिडी की राशि नहीं दी जाएगी
  • इसमें आपको आपको अपने सभी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा
  • फार्म सफलतापूर्वक भरे जाने के बाद एग्री एंड अप्लाई के बटन पर क्लिक करें और फॉर्म को सफलतापूर्वक सबमिट करें|

शौचालय निर्माण के लिए ऑफलाइन आवेदन

  • यदि आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पा रहे हैं तो आप शौचालय निर्माण के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं|
  • इसके लिए शहरी क्षेत्र के लोगों को नगर निगम, नगर पालिका और ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अपने नजदीकी पंचायत के कार्यालय में जाना होगा|
  • वहां पर आप स्वच्छ भारत अभियान के तहत रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं ||
  • अब इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म को भरकर, सभी दस्तावेजों को संलग्न कर नगर निगम, नगर पालिका, पंचायत के कार्यालय में जाकर जमा करवाइए |
  • आपका ऑफलाइन आवेदन हो जाएगा|

‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ – 1 जून 2020 से देश में लागु, ऐसे बनाये नया राशन कार्ड।

एक देश एक राशन कार्ड | वन नेशन वन राशन कार्ड | एक देश एक राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन | One Nation One Ration Card

एक देश एक राशन कार्ड

दोस्तों, केंद्र सरकार ने “एक देश एक राशन कार्ड” योजना 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में, 1 जून 2020 से लागू कर दी है, जो की प्रवासी मजदूरों और श्रमिकों के लिए काफी अच्छी खबर है. इससे पहले यह योजना 12 राज्यों में 1 जनवरी 2020 से लागु की गयी थी। इस लेख में हम इस “एक देश एक राशन कार्ड” योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहें है. तो चलिए जानते इस योजना के बारे में :-

क्या है ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना ?

इस योजना के लागू होने से पहले राशन कार्ड धारक सिर्फ उसी राज्य से गेंहू प्राप्त कर सकते थे, जिस राज्य का वो निवासी है, या जहाँ यह राशन कार्ड बना हुआ है. लेकिन केंद्र सरकार की इस योजना के अंतर्गत, लाभार्थी को एक डिजिटल कार्ड प्रदान किया जाएगा. इस कार्ड के जरिये लाभार्थी अपने हिस्से का राशन (गेंहू, चावल, चीनी) दूसरे राज्यों से भी प्राप्त कर सकता है.

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म | PM Kisan Tractor Scheme

एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य:

इस योजना का मुख्य सार्वजनिक वितरण प्रणाली में पारदर्शिता लाना। भ्रस्टाचार को कम करना तथा जिन व्यक्तियों के एक से अधिक राशन कार्ड बने हुए हैं, उन्हें निरस्त करना.

FAQ,s

पुराने राशन कार्ड का क्या होगा ?

आपके पुराने राशन को नए राशन में बदल दिया जाएगा.

नया राशन कार्ड कैसा होगा ?

नया राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा, जिसे आसानी से पोर्टेबल किया जा सके। नया राशन कार्ड 10 अंको का होगा जिस में शुरू के 2 अंक राज्य कोड होंगे।

राशन कैसे मिलेगा ?

जैसे आपको पहले राशन मिलता था, ठीक उसी प्रकार से बायोमैट्रिक पद्धति से अंगूठा लगाकर राशन प्राप्त कर सकते है.

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म | PM Kisan Tractor Scheme

PM Kisan Tractor Scheme | पीएम किसान ट्रेक्टर योजना | पीएम किसान ट्रेक्टर योजना एप्लीकेशन फॉर्म | किसान ट्रेक्टर योजना | प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर सब्सिडी योजना | नया ट्रेक्टर सब्सिडी पर ख़रीदे | कृषि यंत्र सब्सिडी पर ख़रीदे

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020: दोस्तों जैसा की आप सभी है की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा कई लाभकारी योजनाओं की शुरुआत की गयी है. प्रधानमंत्री द्वारा किसानों के आर्थिक और सामाजिक उत्थान के लिए ऐसी ही एक और योजना शुरू की गयी है जिसका नाम PM Kisan Tractor Yojana है.

जैसा की आप सभी जानते है की, भारत एक कृषि प्रधान देश है और भारत 90% जनता कृषि पर निर्भर है। इसलिए बहुत सारे किसान हैं जो अपने परिवार के लिए खेती करते हैं और हमारे परिवारों के लिए फसलों का उत्पादन करते हैं उनके लिए एक अच्छी खबर है कि हमारे राज्य के पीएम ने एक नई योजना शुरू की है जो भारत के किसानों से संबंधित है उस योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना है । अगर आप भी किसान हैं तो यह योजना आपके लिए है। इस योजना के तहत आप नए ट्रैक्टर को उसकी लागत की आधी कीमत पर खरीद सकते हैं।

PM Kisan Tractor Yojana 2020

किसान भाइयों, यदि आप नया ट्रेक्टर खरीदने की योजना बना रहें हैं, तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। पीएम किसान ट्रेक्टर योजना के तहत आप आधी कीमत पर ट्रेक्टर खरीद सकते है. क्योंकि इस योजना के तहत, सरकार आपको 20% से 50% तक की सब्सिडी प्रदान करती है। इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के बाद आप सब्सिडी पर ट्रैक्टर खरीद सकते हैं. इस लेख में हम आपको पीएम किसान ट्रैक्टर योजना 2020 से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता मानदंड, दस्तावेजों की सूची आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहें है, इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

कृषि नवीन ट्रैक्टर योजना 2020

यदि आप महाराष्ट्र से हैं, तो आप कृषि नवीन ट्रैक्टर योजना 2020 में भी शामिल होंगे । इस योजना के तहत केंद्र सरकार एक नया ट्रैक्टर खरीदने के लिए सब्सिडी प्रदान करती है। यह योजना केवल उन किसानों के लिए लागू है जो ट्रैक्टर इस्तेमाल फसल उत्पादन के लिए कर रहे हैं। यह योजना वाणिज्यिक उपयोगकर्ताओं के लिए लागू नहीं है। इस योजना का लाभ लेने के लिए महाराष्ट्र के किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।

प्रधानमंत्री ट्रैक्टर योजना

इस योजना की आधिकारिक घोषणा करने के बाद, सरकार इस योजना के तहत ऋण की सुविधा भी प्रदान करती है। ताकि किसान इस योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें। हम आपको इस बात की जानकारी भी देते हैं कि आप इस योजना के तहत ऋण के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं। इस योजना का ऋण भी दूसरों की तरह बहुत सरल है। बैंक द्वारा ऋण प्राप्त करने के बाद, आप अपने लिए नया ट्रैक्टर खरीद सकते हैं। और आवेदक को भारत सरकार द्वारा दी जाने वाली 50% की सब्सिडी प्रदान की जाती है।

अटक गईं पीएम किसान सम्मान निधि योजना की क़िस्त : यूँ आधार करें वेरीफाई और पाएं 6000 रूपए सालाना

प्रधानमंत्री किसान योजना का लाभ लेने हेतु आवश्यक दस्तावेज :–

  • आधार कार्ड
  • व्यक्तिगत पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • राशन कार्ड
  • जमीन के कागजात।
  • हाल ही में क्लिक पासपोर्ट आकार की तस्वीर।
  • वैध मोबाइल नंबर।

पीएम किसान ट्रैक्टर योजना के लाभ

  • जो भी किसान नया ट्रैक्टर खरीदना चाहते हैं लेकिन पैसे की कमी के कारण ऐसा नहीं कर पा रहे हैं। इस योजना के तहत आसानी से ट्रेक्टर खरीद सकते हैं।
  • ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन करने के बाद आप ट्रैक्टर और अन्य कृषि उपकरण खरीदने पर 20 से 50% अनुदान राशि प्राप्त कर सकते हैं।
  • यह सब्सिडी राशि सीधे आपके बैंक खाते में स्थानांतरित की जा सकती है।
  • आप अपनी पसंद की किसी भी कंपनी का ट्रैक्टर खरीद सकते हैं।
  • महिला किसान भी इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

PM AWAS YOJANA LIST : आवास योजना सूचि जारी, आधार नंबर से खोजे अपना नाम

पीएम ट्रैक्टर योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करें ?

इस पीएम ट्रैक्टर योजना 2020 के लिए आवेदन करने के लिए दो मोड हैं, एक ऑनलाइन है और दूसरा ऑफलाइन है।

ऑनलाइन मोड:

  • किसान ट्रैक्टर सब्सिडी योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए सरकार के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां आपको रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन फॉर्म मिलेगा उसी पर क्लिक करें। क्लिक करते ही आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा।
  • इस आवेदन फॉर्म में पूछी गयी समस्त सूचनाएं ध्यानपूर्वक भरें.
  • अपने स्कैन किए हुए दस्तावेज़ अपने आवेदन पत्र के साथ अपलोड करें।
  • आपके दिए गए मोबाइल नंबर में आपको पंजीकरण आईडी मिलेगा। भविष्य में इस आईडी से आप अपने आवेदन की स्थिति के बारे में जान सकते हैं।

ऑफ़लाइन:

कुछ राज्य ऑनलाइन आवेदन पत्र स्वीकार नहीं करते थे। तो यहां आपको ऑफ़लाइन आवेदन पत्र जमा करना होगा। ऑफ़लाइन पंजीकरण करने के लिए, आपको अपनी नजदीकी कृषि विभाग कार्यालय में जाना होगा और वहां से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा। इस फॉर्म को अपनी लिखावट से भरें और आवेदन पत्र के साथ अपने दस्तावेजों को संलग्न करें। आवेदन पत्र कार्यालय में जमा करा दे.

क्या है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) और कैसे उठाएं इसका लाभ?

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana | पीएम गर्भावस्था सहायता योजना आवेदन | प्रधान मंत्री मातृ वंदना आवेदन फॉर्म | Mantri Matritva Vandana Yojana in Hindi

क्या है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY)

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY): कुपोषण ने ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में भारतीय महिलाओं को अपंग बना दिया है। ग्रामीण भारतीय महिलाओं का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अल्पपोषण और एनीमिया से पीड़ित है। ख़राब पोषण बच्चे के जन्म पर बहुत अधिक प्रभाव डालता है। एक अल्पपोषित माँ लगभग कम वजन के बच्चे को जन्म देती है। इससे अंततः शिशु और मां का स्वास्थ्य भी खराब होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए, भारत के प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना शुरू की। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) को पहले इंदिरा गांधी मातृ सहयोग योजना (IGMSY) के नाम से जाना जाता था। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिला व माताओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) के उद्देश्य

हालाँकि, गर्भावस्था सहायता योजना गर्भवती महिलाओं को कई तरह से मदद करेगी लेकिन इस योजना के दो मुख्य उद्देश्य हैं

  • कामकाजी महिलाओं को उनके नुकसान की भरपाई के लिए आंशिक मुआवजा प्रदान करना और उनका उचित पोषण सुनिश्चित करना।
  • गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और नकद प्रोत्साहन के माध्यम से पोषण के प्रभाव को कम करना।
  • प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) जिसे पहले यूपीए शासन के दौरान इंदिरा गांधी मातृ सहयोग योजना के रूप में नामित किया गया था, को दूसरी बार नाम दिया गया है। यह योजना महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा लागू की जाएगी।

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) के लाभ

  • इस योजना से गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को अपने पहले जीवित बच्चे के जन्म के लिए लाभ होगा। लाभ राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में DBT मोड के माध्यम से भेजी जाएगी। रिपोर्टों के अनुसार, सरकार निम्नलिखित के रूप में किश्तों में राशि का भुगतान करेगी।
  • पहली किस्त: 1000 रुपए गर्भावस्था के पंजीकरण के समय
  • दूसरी किस्त: 2000 रुपए,यदि लाभार्थी छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच कर लेते हैं ।
  • तीसरी किस्त: 2000 रुपए, जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है ।

1000 रुपये उन लाभार्थियों को दिये जायेंगे जो कि अपने बच्चे को किसी अस्पताल में जन्म देते हैं और जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थी हो. 

किश्तशर्तेँरकम
पहली किश्तगर्भावस्था का प्रारंभिक पंजीकरण₹ 1000 / –
दूसरी किस्तकम से कम एक एएनसी प्राप्त की (गर्भावस्था के 6 महीने बाद दावा किया जा सकता है)₹ 2,000 / –
तीसरी किस्त। जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है
ii बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है ।
₹ 2,000 / –

प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना – छोटे विक्रेंताओं को मिलेगा लाभ – PM Swanidhi scheme 2020

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) निम्न श्रेणी के गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए लागू नहीं होगी।

  1. जो केंद्रीय या राज्य सरकार या किसी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के साथ नियमित रोजगार में हैं।
  2. जो किसी अन्य योजना या कानून के तहत समान लाभ प्राप्तकर्ता हैं।

आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • बैंक या पोस्ट ऑफिस खाता की पासबुक
  • आधार न होने पर पहचान संबंधी अन्य विकल्प
  • पीचएसी या सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड
  • सरकारी विभाग/कंपनी/संस्थान से जारी कर्मचारी पहचान पत्र

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (PMMVY) ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

लाभार्थी के पास सीधे पंजीकरण करने के लिए कोई ऑनलाइन तरीका नहीं है। पात्र महिलाओं को उस विशेष राज्य / केंद्रशासित प्रदेश के कार्यान्वयन विभाग के आधार पर आंगनवाड़ी केंद्र (AWC) / अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा में योजना के तहत पंजीकरण करना आवश्यक है।

PMMVY के तहत मातृत्व लाभ का दावा करने की ऑनलाइन प्रक्रिया क्या है?

मातृत्व लाभ का लाभ उठाने के उद्देश्य से, जो पात्र हैं उन्हें पीएमएमवीवाई योजना के तहत पंजीकरण कराना होगा। यह उस संबंधित राज्य / केंद्रशासित प्रदेश के कार्यान्वयन विभाग के आधार पर, एक आंगनवाड़ी केंद्र या अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा में किया जा सकता है। लाभार्थी को पंजीकरण के लिए निर्धारित फॉर्म को भरना होगा, किस्त का दावा करना होगा और आंगनबाड़ी केंद्र या अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा को सौंपना होगा।

PMMVY के तहत मातृत्व लाभ का दावा करने की ऑफ़लाइन प्रक्रिया क्या है?

व्यक्तियों के पास PMMVY पोर्टल (https://wcd.nic.in/) से निर्धारित प्रपत्र डाउनलोड करने का भी विकल्प है । यहां, इकाई को बस संबंधित स्कीम फैसिलिटेटर के लॉगिन क्रेडेंशियल्स के साथ लॉग इन करना होगा।

  • Form 1 A – एक नए लाभार्थी को पंजीकृत करने और पहली किस्त का दावा करने के लिए भरा जाना है।
  • Form 1 B – दूसरी किस्त का दावा करने के लिए भरा जाता है।
  • Form 1 C – तीसरे किस्त का दावा करने के लिए लाभार्थी के लिए भरा जाए।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana (PMMVY) हेल्पलाइन नंबर

PMMVY के आधिकारिक संपर्क विवरण हैं:
उप निदेशक PMMVY महिला और बाल विकास विभाग
Government of NCT of Delhi, 1, Canning Lane (Pandit Ravi Shankar Shukla Lane), Near Bharatiya Vidya Bhavan Bus Stop, Kasturba Gandhi Marg, New Delhi – 110001.
फोन: – 011 – 23380329
ईमेल: [email protected]

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

SMAM योजना | SMAM किसान योजना | SMAM Scheme Apply Online | SMAM Yojana Registration | SMAM Subsidy Scheme | SMAM योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज | SMAM कृषि यन्त्र 50-80 प्रतिशत सब्सिडी योजना

खुशखबरी! SMAM योजना के तहत कृषि यंत्रों पर भारी सब्सिडी; जानिए विवरण

SMAM योजना: हेलो किसान भाइयों आज हम आपको एक और किसान योजना से अवगत कराने जा रहें है. वह योजना है SMAM योजना। इस योजना के अंतर्गत पात्र किसान लाभार्थी को कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक सब्सिडी मिलेगी। फसलों की पैदावार बढ़ाने और किसानों की आय को दोगुना करने के लिए, यह योजना लागू की गयी है. क्या है यह योजना किन-किन लोगों को मिलेगा इस योजना का लाभ पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख पर अंत तक बने रहिये.

SMAM योजना क्या है ?

किसानों को उन्नत किस्म की बीज, रासायनिक खाद, कीटनाशक, पानी की समुचित व्यवस्था करने के लिए आधुनिक कृषि यन्त्र की आवश्यकता होती है. आज के समय में सही तरीके से खेतों की सिंचाई, बुवाई, जुताई, कटाई आदि बिना आधुनिक यंत्रों के संभव नहीं है. इसलिए भारत सरकार द्वारा किसानों को आधुनिक कृषि यंत्रों को खरीदने के लिए SMAM योजना शुरू की गयी है. इस योजना के अंतर्गत किसानों द्वारा आधुनिक कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जायेगी. आधुनिक कृषि यंत्रों के कारण किसान खेती करने के नए तरीके सीखेंगे जिससे फसलों की पैदावार में बृद्ध होगी तथा किसानों की आर्थिक स्थिति भी सही बनी रहेगी.

प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना – छोटे विक्रेंताओं को मिलेगा लाभ – PM Swanidhi scheme 2020

SMAM Yojana का उद्देश्य

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य फसलों की पैदावार में बृद्धि करना है.
  • किसान पुरानी तकनीक को बदले नयी तकनीक अपनाएँ
  • किसानों की आय में बृद्धि हो सके.
  • आधुनिक तकनीक को अपनाकर उनके लिए खेती कार्य आसान हो जाए.

किसान कृषि यन्त्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

जो किसान कृषि यन्त्र सब्सिडी पर लेना चाहते है, वे आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है. यहाँ हम आपको ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कुछ आसान स्टेप्स बताने जा रहें है.

  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट : https://agrimachinery.nic.in/Farmer/SHGGroups/Registration
  • होम पेज ओपन होने के बाद आपको पंजीकरण ऑप्शन में जाकर “Farmer” पर क्लिक करना है.
  • उसके बाद पंजीकरण फॉर्म में आपसे जो पूछा जाए, उन सभी विवरण को सावधानीपूर्वक भरें.

Raj Kaushal Portal Registration राज कौशल पोर्टल Workers Online Employment Exchange Rajasthan

SMAM Scheme में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • किसान का पासपोर्ट साइज फोटो
  • भूमि विवरण जोड़ते समय रिकॉर्ड करने के लिए भूमि का अधिकार (आरओआर).
  • व्यक्तिगत पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • एससी / एसटी / ओबीसी के मामले में जाति श्रेणी प्रमाणपत्र की प्रति.
  • मोबाइल नंबर

SMAM टोल फ्री नंबर

अधिक जानकारी के लिए किसान अपने राज्य के अनुसार निम्नलिखित नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं –
उत्तराखंड – 0135- 2771881
उत्तर प्रदेश – 9235629348, 0522-2204223
राजस्थान – 9694000786, 9694000786
पंजाब- 9814066839, 01722970605
मध्य प्रदेश- 7552418987, 0755-2583313
झारखंड – 9503390555
हरियाणा – 9569012086
बिहार – 9431818911, 9431400000

Raj Kaushal Portal Registration राज कौशल पोर्टल Workers Online Employment Exchange Rajasthan

राज कौशल पोर्टल | Raj Kaushal Portal Registration | Raj Kaushal Portal Apply Online | राज कौशल योजना 2020 पोर्टल | राजस्थान राज कौशल योजना

Raj Kaushal Portal Registration: राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के श्रम और रोजगार विभाग सरकार ने विश्व पर्यावरण दिवस पर राज कौशल पोर्टल (Raj Kaushal Portal) और ऑनलाइन श्रमिक विनिमय शुरू किया है। इस पोर्टल के तहत, उन प्रवासी श्रमिकों को रोजगार सुनिश्चित किया जाता है जो बेरोजगार हैं। रोजगार पाने के लिए बेरोजगार उम्मीदवारों और श्रमिकों को आधिकारिक राज कौशल योजना पोर्टल www.rajkaushal.rajasthan.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन मोड में पंजीकृत करना होगा। और नीचे दिए गए लेख के माध्यम से ऑनलाइन श्रमिक रोजगार विनिमय (प्रारंभिक श्रमिक मूल्यांकन) की जांच भी करनी होगी।

राज कौशल योजना 2020 पोर्टल

सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग (आईटी) और आरएसएलडीसी ने राज कौशल ऑनलाइन पोर्टल विकसित किया है। इस पोर्टल के माध्यम से श्रमिक रोजगार के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करके श्रमिकों को आसानी से रोजगार मिल सकता है. तालाबंदी के बाद, श्रम की कमी का सामना करने वाले उद्योग आसानी से मजदूरों को प्रदान कर सकते हैं। इसलिए, राज्य सरकार ने राज कौशल पोर्टल और ऑनलाइन श्रम रोजगार विनिमय शुरू किया है। राज्य से श्रमिकों के प्रवास और कोरोना संक्रमण के कारण प्रवासी श्रमिकों के आगमन के कारण, एक ऑनलाइन श्रम विनिमय बनाने के निर्देश दिए गए थे, उसको देखते हुए यह पोर्टल लांच किया गया है. जो उम्मीदवार बेरोजगार हैं, वे ऑनलाइन मोड के माध्यम से राज कौशल योजना पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Raj Koshal Yojana Portal 2020 Highlight

Name of GovernmentGovernment of Rajasthan
Name of portalRaj Kaushal Portal
Launched byChief Minister Ashok Gehlot
Launched Date5th June 2020
ObjectiveProvide Jobs for migrants workers & other l
Article CategoryRaj Kaushal Yojana
Registration ProcessStarted by SSO ID
Helpline Number0141-2229928
Official web portalwww.rajkaushal.rajasthan.gov.in

बेटियों के लिए सरकारी योजनाएं – इन योजनाओं से मिलेगा कन्याओं को लाभ

राज कौशल पोर्टल में पंजीकरण हेतु पात्रता

  • उम्मीदवारों को राजस्थान राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • प्रवासी श्रमिक राज कौशल पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं।
  • बेरोजगार मजदूर राज कौशल पोर्टल पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

राजस्थान रोजगार कार्यालय

पोर्टल में 12 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिकों के साथ-साथ योजना कार्यालयों, भवनों और अन्य निर्माण बोर्डों के पंजीकृत श्रमिकों सहित 53 लाख से अधिक श्रमिकों और आरएसएलडीसी और आईटीआई में प्रशिक्षित जनशक्ति के आंकड़ों को शामिल किया गया है। साथ ही, 11 लाख से अधिक नियोक्ताओं को भी इस पर पंजीकृत किया गया है। इसके अलावा, कोई भी कार्यकर्ता इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण करा सकता है। इच्छुक और योग्य उम्मीदवारों को राज कौशल पोर्टल पर पंजीकृत करना होगा। नवीनतम अपडेट के संबंध में श्रमिक नियमित रूप से इस वेब पेज पर जाते हैं।

श्रमिक पंजीकरण क्या है | UP Shramik Majdur Card के लाभ और बनाये कार्ड ऑनलाइन

राज कौशल योजना के उद्देश्य के उद्देश्य एवं लाभ

  • सेवा प्रदाता तथा सेवाग्राही हेतु ऑनलाइन प्लेटफार्म उपलब्ध करवाना
  • संसथान/फर्म/कंपनी/व्यवसायी/विशेष व्यक्ति आदि को आवश्यकतानुसार स्थानीय कार्मिक उपलब्ध कराना
  • रोजगार के इच्छुक लोगों को रोजगार मुहैया कराना
  • प्रति व्यक्ति आय में बृद्धि करना
  • ऑनलाइन रोजगार केंद्र के रूप में कार्य कर कोरोना जैसी महामारी या आपदा के समय बेरोजगारों को रोजगार के अवसर तथा औद्योगिक श्रम की आपूर्ति विकसित करना।

राज कौशल पोर्टल ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आवेदन कैसे करें ?

वे सभी प्रवासी मजदुर जो लॉक डाउन के कारण बेरोजगार हो गए है, और रोजगार की तलाश कर रहे हैं , वह राज कौशल पोर्टल पर अपना पंजीकरण कर रोजगार प्राप्त कर सकते है. यह नियोक्ता, कर्मचारी, और कंपनी एक पुल बना देगा, जिन्हे मजदूरों की आवश्यकता होगी वे पोर्टल के माध्यम से सीधे संपर्क कर सकते है. ऑनलाइन राज कौशल पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया निम्नानुसार है:-

  • सबसे पहले आवेदक को राज कौशल की आधिकरिक वेबसाइट को ओपन करना है.
  • आधिकारिक वेबसाइट : www.rajkaushal.rajasthan.gov.in
  • होम पेज पर न्यू रजिस्ट्रेशन लिंक पर क्लिक करें।
  • अपना मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी दर्ज करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें। (एसएसओ आईडी बनाएं)
  • ओटीपी दर्ज करें और पूरा फॉर्म सावधानी से भरें।
  • सबमिट बटन पर क्लिक करें और आप सफलतापूर्वक पंजीकृत हो जाएंगे।

इस प्रकार ऊपरवर्णित चरणों का पालन कर आप आसानी से राज कौशल पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

Important Links

Registration Direct LinkCheck Here 
Official Websitewww.rajkaushal.rajasthan.gov.in
For Help

राज कौशल पोर्टल हेल्पलाइन नंबर

पता: R. S. Tanwar Director (Man Power)
फ़ोन नं. : 0141-2229928
ईमेल : [email protected]

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020 – राज्यों के अनुसार देखें

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट | MGNREGA Job Card List 2020 | नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020 | MGNREGA Job Card Apply Online | MGNREGA Job Card Registration | NREGA Job Card List State Wise

महात्मा गांधी नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020: दोस्तों जैसा की आप सभी को पता है की मजदूरों के लिए शुरू की गयी, महात्मा गांधी नरेगा जॉब कार्ड योजना काफी कारगर साबित हुई है. जो लोग मजदुर श्रेणी में आते हैं और जिन्होंने इस योजना का लाभ नहीं लिया है, वह ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से आवेदन कर सकते है. जिन लोगों ने नरेगा योजना में आवेदन कर रखा है, वह आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर नरेगा जॉब कार्ड सूचि में अपना नाम देख सकते है. इस लेख में हम आपको राज्यवार मनरेगा जॉब कार्ड की न्यू लिस्ट, NREGA Job Card List चेक करने का तरीका बताने जा रहे हैं, इसलिए सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े.

महात्मा गाँधी नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020 देखे

महात्मा गाँधी नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट प्रतिवर्ष जारी होती है. इस लिस्ट में पात्र उम्मीदवारों के नाम होते है. नरेगा जॉब कार्ड में प्रार्थी की समस्त जानकारी दी हुई होती है जैसे लाभार्थी का नाम, पता, लाभार्थी को किस विभाग में काम करना है, आदि की सम्पूर्ण जानकारी दी हुई होती है. नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट में नाम होने से लाभार्थी को रोजगार उपलब्ध कराया जाता है. इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं की कैसे लाभार्थी नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट में अपना नाम देख सकता है, व उसे डाउनलोड कर सकता है. नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020 के बारे में उपर्युक्त जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़े.

PM Awas Yojana List : आवास योजना सूचि जारी, आधार नंबर से खोजे अपना नाम

महात्‍मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना 2020

महात्‍मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सकेगा. रोजगार मांगने वाले युवकों के नाम उनकी पंचायतों में जॉब कार्ड बनाकर जोड़ दिए जाएंगे। अगर किसी नागरिक का नाम किसी परिवार के जॉब कार्ड में नहीं जुड़ा है, तो उसे जोडा जायेगा।

नरेगा के अंतर्गत किये जाने वाले कार्य

  • गौशाला निर्माण कार्य
  • आवास निर्माण कार्य
  • मार्ग निर्माण कार्य
  • वृक्षारोपण कार्य
  • सिंचाई कार्य
  • चकबंध कार्य

नरेगा जॉब कार्ड लिस्‍ट 2020 :–

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट में प्रतिवर्ष पात्र लाभार्थियों के नाम जोड़े जाते है, तथा अपात्र लाभार्थियों के नाम हटा दिए जाते है. योग्य लाभार्थी राज्यवार नरेगा योजना की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन कर नरेगा जॉब कार्ड डाउनलोड कर सकते है. इस नरेगा जॉब कार्ड के माध्यम से मजदूरों को कई सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है.

ANDHRA PRADESHARUNACHAL PRADESH
BIHARCHHATTISGARH
HARYANAHIMACHAL PRADESH
JHARKHANDKARNATAKA
MADHYA PRADESHMAHARASHTRA
MEGHALAYAMIZORAM
ODISHAPUNJAB
SIKKIMTAMIL NADU
UTTAR PRADESHUTTARAKHAND
ANDAMAN AND NICOBARDADRA & NAGAR HAVELI
GOALAKSHADWEEP
ASSAMTELANGANA
GUJARATNAGALAND
JAMMU AND KASHMIRRAJASTHAN
KERALATRIPURA
MANIPURWEST BENGAL
PUDUCHERRYDAMAN & DIU

नरेगा जॉब कार्ड 2020 के लाभ

  • नरेगा योजना के माध्यम से बेरोजगार लोगों को रोजगार मुहैया कराया जाता है.
  • इस योजना में ग्रामीण और शहरी लोगों को शामिल किया गया है।
  • नरेगा जॉब कार्ड से कई सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है.
  • लोगों के आर्थिक और सामाजिक जीवन स्तर को ऊँचा उठाना है.
  • इस योजना में हर राज्‍य के नागरिकों को शामिल किया गया है।

अटक गईं पीएम किसान सम्मान निधि योजना की क़िस्त : यूँ आधार करें वेरीफाई और पाएं 6000 रूपए सालाना

PM Kisan Yojana Aadhaar Card Verification | PM Kisan Yojana | PMKY | पीएम किसान सम्मान निधि योजना |PM Kisan Samman Nidhi Yojana Aadhaar Corrction | PM Kisan Yojana Status | PM Kisan Samman Nidhi Beneficiary List | PM Kisan Samman Nidhi Yojana Online Apply | Kisan News

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना: जिन किसानों का आधार वेरीफाई नहीं हुआ है, उन किसानों की किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें अटक गयी है. यदि आपकी भी पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें अटक गयी है, तो आप घर बैठे मोबाइल फ़ोन के माध्यम से अपने आवेदन फॉर्म में सुधार करके पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें प्राप्त कर सकते है.

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभार्थियों को सालाना 6000 रूपए दिए जाते है. इस योजना की पांचवी क़िस्त किसानों को मिल चुकी है, तथा अगस्त में छठी क़िस्त आने की संभावना है. लेकिन ऐसे कई किसान है जिन्हे शुरूआती किस्तों के बाद पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें नहीं मिल पाई है.

Also Read: PM Awas Yojana List

इसका मुख्य कारण यह है की, इस योजना का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड के वेरिफिकेशन को अनिवार्य कर दिया है. ऐसे कई किसान हैं, जिनके आधार कार्ड का वेरिफिकेशन नहीं हो पाया है, जिसके कारण उनकी किस्तें अटक गयीं है. इस लेख में हम आपको बताएं की कैसे आप Aadhaar Card वेरीफाई करा सकते है, और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है.

Aadhaar Card वेरीफाई कैसे करें ?

आधार कार्ड वेरीफाई न होने की वजह से कई किसानों को शुरूआती किस्तें मिलने के बाद बाकी की किस्तें रुक गयी है. किस्तें प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना आधार कार्ड वेरीफाई करवाना होगा. आधार कार्ड वेरीफाई करवाने के लिए हम आपको कुछ आसान स्टेप्स बताने जा रहें है, जिससे आप घर बैठे अपना आधार कार्ड ऑनलाइन वेरीफाई करवा सकते है.

  • आधार कार्ड के वेरिफिकेशन के लिए सबसे पहले आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट : https://pmkisan.gov.in/
  • आधिकारिक वेबसाइट ओपन होने के बाद Farmers Cornor के ऑप्शन में जाकर Edit Aadhaar Failure Record पर क्लिक करना होगा.
  • Edit Aadhaar Failure Record पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा, इसमें आपको आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा.
  • इसके बाद आपको अगले पेज पर आपको आधार कार्ड में जो नाम है
  • सेम वही नाम इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में डालना है, और उसके बाद Update करना है.
  • इस प्रकार आप आसानी से अपने आधार कार्ड को वेरीफाई करवा सकते है.

कामधेनु डेयरी योजना 2020 – Kamdhenu Dairy Scheme Rajashan

PM Kisan Yojana: अकाउंट डिटेल्स करें दुरुस्त

कई किसानो द्वारा बैंक डिटेल्स में कई खामियां पाई गयी है, जिसके कारण उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल पाता। ऐसे में आपको अकाउंट नंबर, किसान का नाम, IFSC कोड, और अन्य जानकारियां करेक्ट करनी होंगी. आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आप यह जानकारिया सही कर सकते है.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन कैसे करें ?

जिन किसान भाइयों ने अभी तक इस योजना में आवेदन नहीं किया है वह अपने नजदीकी CSC सेंटर जाकर आवेदन कर सकते है. आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें की अभी तक इस योजना से 9.5 करोड़ किसान जुड़ चुके है. केंद्र सरकार ने इस योजना के अंतर्गत 14 करोड़ किसानों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पास बुक
  • किसान के स्वयं के खेत कि जमाबंदी
  • मोबाइल नम्बर
  • पास पोर्ट साइज फोटो

Toll Free Number

पीएम-किसान हेल्पलाइन नंबर 155261/1800115526 (टोल फ्री), 0120-6025109

Important Links

PM Awas Yojana List : आवास योजना सूचि जारी, आधार नंबर से खोजे अपना नाम

PM Awas Yojana | PM Awas Yojana List | प्रधानमंत्री आवास योजना | पीएम आवास योजना लाभार्थी सूचि | PM Awas Yojana Beneficiary List | PM Awas Yojana Status | Pradhan Mantri Awas Yojana Apply Online

PM Awas Yojana List: प्रधानमंत्री आवास योजना गरीबों और मध्यमवर्गीय लोग जिनकी आर्थिक स्थिति काफी ख़राब होती है, ऐसे लोगो को ध्यान में रखकर शुरू की गयी है. इस योजना के अंतर्गत गरीब एवं मध्यमवर्गीय लोगों को पक्का मकान बनाने के लिए सहायता राशि दी जाती है. प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत दो योजनाएं कार्यरत है. पहली प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, दूसरी प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना.

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana), और प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के तहत अलग-अलग सहायता राशि दी जाती है. ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को ग्रामीण आवास योजना का लाभ मिलता है, और शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को शहरी आवास योजना का लाभ मिलता है. यदि आप भी प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो इस लेख में PM Awas Yojana से सम्बंधित समस्त जानकारी साझा करने जा रहें है.

PM Awas Yojana List 2020-21

Pradhan Mantri Awas Yojana के तहत केंद्र सरकार ने 2022 तक देश के सभी गरीब परिवारों को स्वयं का मकान देने का लक्ष्य रखा है. इस योजना के तहत तक़रीबन 1 करोड़ से ज्यादा घर बनकर तैयार हो चुके है, वही 1.5 लाख घरों का काम प्रगति पर है.

(Update) Pradhan Mantri Awas Yojana 2020 – How to apply for प्रधानमंत्री आवास योजना, Application Form, Status

प्रधानमंत्री आवास योजना लाभार्थी सूचि

प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana): के तहत हर महीने लाभार्थियों की सूचि जारी की जाती है. इन सूचि में उन लोगों का नाम होता है, जिन्हे इस योजना का लाभ होने वाला है. PM आवास योजना लाभार्थी सूचि (PM Awas Yojana List) में नाम आने के बाद लाभार्थी के बैंक खाते में इस योजना की राशि किश्तों में आना शुरू हो जाती है. यदि आपने भी इस योजना में आवेदन किया है तो आप प्रधानमंत्री आवास योजना लाभार्थियों की सूचि आधिकारिक वेबसाइट पर देखि जा सकती है. यहाँ हम आपको पीएम आवास योजना में लाभार्थियों की सूचि कैसे देखनी है, इसकी जानकारी प्रदान करने जा रहे है.

PM Awas Yojana List में अपना नाम कैसे देखें ?

इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार पीएम आवास योजना लाभार्थी सूचि (PM Awas Yojana Beneficiary List) लिस्ट जारी करती है. इस लिस्ट में उन लोगों का नाम होता है, जिन्हे इस योजना के अंतर्गत प्रोत्साहन राशि दी जानी है. यदि आप अपना नाम लाभार्थियों की सूचि में देखना चाहते है, तो आप आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर अपने आधार कार्ड नंबर से चेक कर सकते है. आप निम्न प्रकार से अपना नाम चेक कर सकते है.

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • Official Website: https://pmaymis.gov.in/
  • होम पेज ओपन होने के बाद वेबसाइट के होम पेज पर आपको मेनू बार में Search Benificiary के विकल्प पर क्लिक करना है.
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा, इस पेज पर आपको अपना आधार नंबर डालकर Show बटन पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद यदि आपका नाम सूचि में होगा तो दिख जाएगा अन्यथा नहीं।

पीएम आवास योजना से जुडी महत्वपूर्ण बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत प्रार्थी को पक्का मकान बनाने के लिए 1.67 लाख रूपए की आर्थिक मदद दी जाती है. यह राशि लाभार्थी के बैंक खाते में के किस्तों में ट्रांसफर की जाती है. यदि आप बैंक से लोन लेकर अपना घर बना रहें हैं तो आपको 1.67 लाख रूपए की सब्सिडी भी दी जाती है.

इंदिरा गाँधी आवास योजना नई सूची | IAY लाभार्थी सूची 2020-21 @iay.nic.in

बेटियों के लिए सरकारी योजनाएं – इन योजनाओं से मिलेगा कन्याओं को लाभ

कन्या योजना, बालिका योजना, बेटियों के लिए योजना, बेटियों की योजना का लाभ, बेटियों की योजना लिस्ट, यहां देखे बेटियों की इन योजना में मिलता है कितना लाभ

बालिका योजना – बेटियों के लिए योजना की लिस्ट: बेटियों को आर्थिक, सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए सरकार कई योजनाओं का संचालन करती है. इन योजनाओं के तहत बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना, लिंगानुपात को रोकना, बाल विवाह तथा समाज में फैली कुरीतियों को कम करना है. इस लेख में हम आपको बेटियों के लिए शुरू की गयी सरकारी योजनाओं के बारे में बताने जा रहें है.

बेटियों के लिए सरकारी योजनाएं – इन योजनाओं से मिलेगा कन्याओं को लाभ

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के अभियान के तहत कई योजनाएं शुरू की गयी है. जिसमे बेटी के जन्म पर बेटी की शिक्षा पर बेटी की शादी पर सरकार की और से सहायता प्रदान की जाती है. यहाँ हम कन्याओं के लिए सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं के बारे में आपको अवगत कराने जा रहे है.

लाडली लक्ष्मी योजना – Ladli Lakshmi Yojana

जो बालिकाएं 1 जनवरी 2006 के बाद जन्मी है, इसके अंतर्गत समय-समय पर e-payment के द्वारा भुगतान किया जाता है. इस योजना के तहत बालिका का कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर ₹2000, कक्षा 9 में प्रवेश लेने पर 4000 रूपए, और 11वीं और 12वीं के दौरान ₹200 का भुगतान हर माह किया जाता है. बालिका के 21 वर्ष होने पर और कक्षा 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित होने पर शेष राशि का भुगतान किया जाता है. अधिक जानकारी के लिए यहां देखे Rade More …

मुख्यमंत्री राजश्री योजना- Mukhymantri Rajshri Yojana राजस्थान

राजश्री लक्ष्मी योजना 2016 में लागू की गई थी. इस योजना के तहत बेटियों के जन्म पर ₹51000 मिलते हैं. इस योजना का मुख्य उद्देश्य बेटियों की स्वास्थ्य व उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहन करना है, तथा बेटियों के लिए समाज में सकारात्मक सोच विकसित करना है. इस योजना के तहत बेटी के जन्म के समय पर ₹2500, 1 वर्ष का टीकाकरण होने पर ₹2500, कक्षा पहली में प्रवेश लेने पर ₹4000, कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर ₹5000, व कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर ₹11000, और कक्षा 12 उत्तीर्ण होने पर ₹25000 मिलते हैं.

भाग्यलक्ष्मी योजना – Bhagya Lakshmi Yojana

भाग्यश्री लक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश की योजना है. इस योजना के तहत बेटी के जन्म पर 50 हजार रूपए का बांड व 5100 रुपए बेटी की मां के खाते में जमा की जाते हैं. इसके अलावा बेटी के 21 साल पूरे होने पर 200000 की सहायता भी दी जाती है. भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत बेटी का कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर ₹3000, कक्षा आठ में प्रवेश करने पर ₹5000, व कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर ₹7000, कक्षा 12वीं में प्रवेश लेने पर ₹8000 की सहायता दी जाती है.

धनलक्ष्मी योजना – Dhan Lakshmi Yojana

धनलक्ष्मी योजना 2008 में शुरू की गई थी. इस योजना के तहत बेटी का जन्म पंजीकरण, टीकाकरण और शिक्षा पर 18 वर्ष की आयु के बाद ही विवाह किये जाने पर ₹100000 की बीमा राशि दिए जाने का प्रावधान है.

सुकन्या समृद्धि योजना – Suknya Samrdhi Yojana

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आपको प्रतिमाह कुछ राशि अंशदान करनी होती है. इस योजना में 250 रूपए से बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवा सकते है. हर साल आप की ओर से तय अमाउंट 14 साल तक जमा करना होता है. बेटी के 18 वर्ष पूर्ण होने पर आधा पैसा निकाला जा सकता है तो वहीं 21 साल के होने पर खाता बंद कर दिया जाता है.

भाग्यश्री योजना – Bhagyshri Yojana

भाग्यश्री लक्ष्मी योजना महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू की गई है. इस योजना के तहत बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहन करना है. यह योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तर्ज पर आधारित है. इस योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों की बेटियों को लाभ मिलेगा। इस योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार में जन्मी बेटी के खाते में सरकार द्वारा ₹21200 जमा करवाती है बेटी के 18 वर्ष पूर्ण होने पर पूरे होने पर उसे ₹100000 दिए जाते हैं.