एमपी किसान अनुदान योजना 2020 : कृषि उपकरण खरीदने पर मिलेगी 30% से 50% तक सब्सिडी


किसान अनुदान योजना एमपी 2020 आवेदन | MP Kisan Anudan Scheme Online Form | कृषि उपकरण सब्सिडी योजना ऑनलाइन | मध्य प्रदेश कृषि उपकरण सब्सिडी योजना 2020

एमपी किसान अनुदान योजना का उद्घाटन राज्य के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है। इस योजना के अंतर्गत कृषि उपकरण खरीदने पर किसानों को सब्सिडी प्रदान की जायेगी. किसानों के लिए नए तकनीकी उपकरण पेश करना (ताकि नए तकनीकी उपकरणों को किसानों के लिए सुलभ बनाया जा सके।) इस योजना के तहत, राज्य के किसानों को संघीय सरकार से अनुदान मिलेगा। आपको इसके लिए अच्छे कृषि उपकरण खरीदने चाहिए। इस लेख के माध्यम से आपको कृषि उपकरण सब्सिडी योजना से सम्बंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है. इसलिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

मध्य प्रदेश कृषि उपकरण सब्सिडी योजना 2020

इस योजना के तहत, संघीय सरकार द्वारा एमपी किसानों को 30% से 50% की अनुदान राशि की आपूर्ति की जा सकती है। इस योजना के तहत किसानों को 40,000 से 60,000 रुपये तक की सब्सिडी दी जा सकती है। ई-कृषि यंत्र अनुदान योजना राज्य के किसानों के लिए वरदान साबित होगी। इससे राज्य के किसानों को काफी लाभ होगा। मध्य प्रदेश कृषि उपकरण सब्सिडी योजना 2020 के इच्छुक लाभार्थी किसान यदि आप योजना के तहत संघीय सरकार द्वारा सब्सिडी प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आप इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑन-लाइन आवेदन कर सकते हैं और इस योजना से लाभान्वित हो सकते हैं। इसमें कृषि उपकरणों के जवाब में मौद्रिक मदद दी जा सकती है। यदि कोई लड़की / लड़की किसान है तो इसके लिए अतिरिक्त रियायत दी जा सकती है। उन्हें विशेष लाभ दिया जा सकता है।

मध्य प्रदेश कृषि उपकरण सब्सिडी योजना की डिटेल्स

योजना का नामएमपी किसान अनुदान योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीराज्य के किसान
उद्देश्यकिसानो को कृषि उपकरण के लिए अनुदान राशि प्रदान करना
विभागकिसान कल्याण तथा कृषि विकास एवं उद्यानिक एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://dbt.mpdage.org/index.htm

PM Kisan Beneficiary List : अगली क़िस्त के लिए सूचि जारी, ऑनलाइन देखें अपना नाम

मध्य प्रदेश किसान अनुदान योजना 2020 का उद्देश्य

जैसा कि आप सभी जानते हैं की, कृषि करने के नए तरीके आ रहे हैं और नए उपकरण आ रहे हैं। लेकिन किसानों के लिए इन उपकरणों को खरीदना थोड़ा कठिन है। इसीलिए मध्य प्रदेश के अधिकारियों ने इस योजना को शुरू किया है। मध्य प्रदेश किसान अनुदान योजना 2020 का महत्वपूर्ण लक्ष्य खेती के लिए अच्छे उपकरण खरीदने के लिए राज्य के किसानों को अनुदान राशि की पेशकश करना है। ताकि मध्यप्रदेश के किसान अच्छी फसल पैदा कर सकें और आत्मनिर्भर बन सकें। इस योजना के माध्यम से, किसानों की आय में भी वृद्धि होगी। मध्य प्रदेश के किसान इस योजना के तहत कृषि यन्त्र सब्सिडी पर खरीदकर, अच्छी तरह से खेती कर सकते है.

कृषि उपकरण योजना सब्सिडी सिचाई यंत्र

  • विद्युत पंप सेट   
  • डीजल पंप सेट    
  • पाइपलाइन सेट
  • ड्रिप सिस्टम         
  • स्प्रिंकलर सेट       
  • रेन गन सिस्टम

कृषि उपकरण योजना सब्सिडी सिंचाई उपकरण

  • लेजर लैंड लेवलर
  • रोटावेटर, पावर टिलर
  • रेजड बेड प्लांटर
  • ट्रैक्टर (20 हॉर्सपावर से अधिक)
  • ट्रैक्टर चलित रीपर कम बाइंडर
  • स्वचालित रीपर
  • ट्रैक्टर माउंटेड/ऑपरेटेड सप्रेयर
  • मल्टी क्रॉप थ्रेशर/एक्सियल फ्लो पैडी थ्रेशर
  • पैड़ी ट्रांसप्लांटर
  • सीड ड्रिल
  • रीपर कम बाइंडर
  • हैप्पी सीडर
  • जीरो टिल सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल
  • सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल
  • रेस्ट बेड प्लांटर विद इंक्लाइंड प्लेट प्लांट एंड शेपर
  • पावर हैरो
  • पावर वीडर(इंज चलित 2 बीएचपी से अधिक)
  • मल्टीक्रॉप प्लांट्स
  • ट्रैक्टर (20 हॉर्स पावर तक) छोटे
  • मल्चर
  • श्रेडर

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना – आवेदन करे और पाए 10,000 रु।

मध्य प्रदेश किसान अनुदान योजना के लाभ

  • मध्य प्रदेश के किसानों का जीवन स्तर ऊपर उठेगा|
  • सभी किसान भाइयों को सब्सिडी प्राप्त होगी|
  • सभी किसान भाई अच्छे-अच्छे अपने उपकरण खरीद सकेंगे|

मध्यप्रदेश किसान अनुदान योजना के लिए पात्रता

ट्रेक्टर

  • किसी भी श्रेणी के कृषक ट्रेक्टर का क्रय कर सकते है।
  • केवल वे ही कृषक पात्र होगे जिन्होने गत 7 वर्षो में ट्रेक्टर या पावरटिलर क्रय पर विभाग की किसी भी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ प्राप्त नही किया है।
  • ट्रेक्टर एवं पावरटिलर में से किसी एक पर ही अनुदान का लाभ प्राप्त किया जा सकेगा।

स्वचलित कृषि उपकरण (रीपर कम बाईन्डर, स्वचलित रीपर, राईस ट्रांस प्लान्टर)

  • किसी भी श्रेणी के कृषक उक्त सामग्री का क्रय कर सकते है।
  • केवल वे ही कृषक पात्र होगे जिन्होने गत 5 वर्षो में उक्त यंत्रो के क्रय पर विभाग की किसी भी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ प्राप्त नही किया है।

ट्रेक्टर से चलने वाले सभी प्रकार के कृषि यंत्र

  • किसी भी श्रेणी के कृषक यह यंत्र का क्रय कर सकते है किन्तु स्वयं के नाम पर पूर्व से ट्रेक्टर होना आवश्यक है।
  • केवल वे ही कृषक पात्र होगे जिन्होने गत 5 वर्षो में उक्त यंत्रो के क्रय पर विभाग की किसी भी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ प्राप्त नही किया है।

स्प्रिंकलर, ड्रिप सिस्टम, रेनगन, डीजल/विधुत पंप

  • समस्त वर्ग के कृषक जिनके पास स्वयं की भूमि हो वही पात्र होगे |
  • जिस कृषक द्वारा 7 वर्षो में सिंचाई उपकरण का लाभ लिया हैं वह कृषक पात्र नहीं होगा|
  • विधुत पंप हेतु कृषक के पास विधुत कनेक्शन होता अनिवार्य हैं|

किसान अनुदान योजना 2020 के लिए दस्तावेज

  • आवेदक आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • जाति प्रमाण पत्र (केवल अनुसूचित जाति एवं जनजाति के कृषक हेतु
  • बी-1 की प्रति
  • बिजली कनेक्शन का प्रमाण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी किसान अनुदान योजना 2020 में आवेदन कैसे करे?

जो इच्छुक किसान सब्सिडी पर कृषि यन्त्र खरीदना चाहते है, उन्हें एमपी किसान अनुदान योजना 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा.

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले किसान को Official Website पर जाना होगा.
  • वेबसाइट खुलने के बाद आपको आपको कृषि यंत्र कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय “आवेदन करे” का ऑप्शन दिखाई देगा । आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा ।
  • ऑफिसियल वेबसाइट खुलने के बाद अगला पेज खुल जाएगा, इस पेज पर आपको आवेदन फॉर्म दिखाई देगा आपको इस फॉर्म में अपनी पसंद के आधार पर “बायोमेट्रिक के माध्यम से” या “बायोमेट्रिक के बिना” विकल्प का चयन करें।
  • फिर पूछी गयी सभी जानकारी जैसे जिला ,ब्लॉक , ग्राम , कृषक वर्ग , कृषि यंत्र , योजना आदि का चयन करना होगा और फिर अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर भरना होगा ।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको capture finger के बटन पर क्लिक करना होगा ।सफल पंजीकरण के बाद, आपको सिस्टम जनरेट किया गया एप्लिकेशन नंबर दिखाई देगा, इसे भविष्य के लिए सुरक्षित करके रख ले ।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना 2020 | ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म

राष्ट्रीय वयोश्री योजना 2020 | राष्ट्रीय वयोश्री योजना ऑनलाइन आवेदन | राष्ट्रीय वयोश्री योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | Rashtriya Vayoshri Yojana | Rashtriya Vayoshri Yojana Apply Online | Rashtriya Vayoshri Yojana Application Form

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) बीपीएल श्रेणी से संबंधित वरिष्ठ नागरिकों के लिए भौतिक सहायता और सहायक-जीवित उपकरण प्रदान करने के लिए एक योजना है। यह एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है, जो पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित है। योजना के कार्यान्वयन के लिए व्यय “वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष” से पूरा किया जाएगा। यह योजना एकमात्र कार्यान्वयन एजेंसी – कृत्रिम अंग निर्माण निगम (ALIMCO), सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के तहत एक सार्वजनिक उपक्रम के माध्यम से लागू की जाएगी।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना 2020

योजना के तहत, भौतिक सहायता केवल राष्ट्र के वरिष्ठ नागरिकों को प्रदान की जाएगी। इसका मतलब है कि जो लोग 60 वर्ष से अधिक आयु के हैं, उन्हें नि: शुल्क सहायता प्राप्त जीवित सहायक उपकरण और भौतिक उपकरण मिलेंगे जो उनकी स्थिरता के लिए आवश्यक हैं। साथ ही सरकार ने उन शहरों की सूची का चयन किया है जहाँ योजना लागू की जाएगी। वरिष्ठ नागरिकों को राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) का पूर्ण लाभ प्राप्त करने का मुख्य मापदंड यह है कि उन्हें बीपीएल परिवार से संबंधित होना चाहिए और संबंधित प्राधिकारी द्वारा जारी वैध बीपीएल कार्ड होना चाहिए।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब वर्ग के बुजुर्गों को लाभ पहुंचाना है, जो बढ़ती उम्र के साथ चलने फिरने में दिक्कतों का सामना करते है. इस योजना के तहत गरीब वर्ग के बुजुर्गों को चलने फिरने में आसानी हो इसके लिए उन्हें सहायक उपकरण उपलब्ध कराएं जाएंगे.

Rashtriya Vayoshri Yojana में बुजुर्गों को मिलने वाले उपकरणों की सूची

वॉकिंग स्टिक
एल्बो कक्रचेस
ट्राइपॉड्स
क्वैडपोड
श्रवण यंत्र
व्हील चेयर
कृत्रि मडेंचर्स
स्पेक्टल्स

राष्ट्रीय वयोश्री योजना की प्रमुख विशेषताएं

  • इस योजना के तहत, सहायक उपकरण और सहायक उपकरण जीवित हैं। पात्र वरिष्ठ नागरिक लाभार्थियों को चलने वाली लाठी, कोहनी बैसाखी, वॉकर / बैसाखी, तिपाई / क्वाड पॉड, श्रवण यंत्र, व्हीलचेयर, कृत्रिम डेन्चर और चश्मा नि: शुल्क वितरित किए जाते हैं।
  • यह एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है, जो पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित है।
  • योजना वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष (SCWF) से पूरी तरह से वित्त पोषित है, वरिष्ठ नागरिक कल्याण निधि नियम, 2016 की स्थापना की गई (योजना के कार्यान्वयन के लिए व्यय “वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष) से ​​मिलेगा।”
  • योजना के तहत प्रत्येक जिले में लाभार्थियों को उनकी आवश्यकताओं का आकलन करने और संबंधित जिला प्रशासन के सहयोग से ALIMCO द्वारा आयोजित मूल्यांकन शिविरों में अपेक्षित सहायक लिविंग डिवाइसेस को निर्धारित करने के लिए डॉक्टरों / तकनीशियनों / अन्य पेशेवरों की एक टीम द्वारा पहचाना जाता है।
  • राज्य सरकार / केन्द्र शासित प्रदेश प्रशासन / जिला स्तरीय समिति BPL श्रेणी से संबंधित वरिष्ठ नागरिकों की पहचान के लिए NSAP या राज्य / संघ राज्य क्षेत्र की किसी भी अन्य योजना के तहत वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने वाले BPL लाभार्थियों के डेटा का भी उपयोग कर सकती है।
  • उपकरणों को तब शिविर मोड में पहचाने गए लाभार्थियों को वितरित किया जाता है।
  • इसके अलावा, इन शिविरों के आयोजन में ALIMCO को सहयोग प्रदान करने के लिए इस मंत्रालय से संबंधित राज्यों / केन्द्र शासित प्रदेश सरकारों को नियमित संचार किया जाता है।
  • जहां तक ​​संभव हो, प्रत्येक जिले में 30% लाभार्थी महिलाएं होंगी।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना आवेदन हेतु पात्रता

  • आवेदक की उम्र 60 से कम ना हो
  • आर्थिक रूप से कमजोर या बीपीएल कैटेगिरी और उनसे छोटे वर्ग के बुजुर्ग लोग ही इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।
  • देश के नागरिक होना अनिवार्य है, इस योजना का लाभ किसी अन्य देश के व्यक्ति को नहीं दिया जाएगा।

Vayoshri Yojana हेतु दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शारीरिक अक्षमता का प्रमाण पत्र या मेडिकल रिपोर्ट
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • आवेदक जिस भी उपकरण के लिए आवेदन कर रहा है, उसका भूलेख मेडिकल रिपोर्ट में होना आवश्यक है.

Rashtriya Vayoshri Yojana 2020, Apply Online Registration Form

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना से जुडी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट: https://www.alimco.in/index.aspx
  • वेबसाइट खुलने के बाद आपको Vayoshri Registration पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा, इस पेज में पूछी गयी सभी जानकारी सही सही भरे.
  • फॉर्म भरने के बाद डॉक्यूमेंट अपलोड करें, और सबमिट बटन पर क्लिक करें.
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में भरी गई जानकारी और आपके दस्तावेजों की जांच होगी। अब इस जांच में जैसे ही आपकी जानकारियां सही पाई जाएंगी आपको योजना का लाभ मिल जाएगा।

PM Kisan Beneficiary List : अगली क़िस्त के लिए सूचि जारी, ऑनलाइन देखें अपना नाम

PM Kisan Yojana | PM Kisan Samman Nidhi Yojana | प्रधानमंत्री किसान योजना | PM Kisan Beneficiary List | प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना | PM Kisan Yojana Status

PM Kisan Beneficiary List: प्रधानमंत्री किसान योजना (PM Kisan Yojana) के अंतर्गत विभाग ने अगली क़िस्त के लिए लाभार्थियों की सूचि ऑनलाइन जारी कर दी है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत किसानों को आर्थिक सहायता के रूप में प्रतिवर्ष 6000 रूपए की राशि दी जाती है.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें की इस योजना के तहत किसानों को पांचवी क़िस्त भेजी जा चुकी है, छठी क़िस्त के लिए लाभार्थियों की अगली सूचि जारी कर दी है. आप पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस सूची में अपना नाम देख सकते हो. इस सूचि में नाम होने पर आपको इसकी अगली क़िस्त मिलेगी.

PM Kisan Samman Nidhi Yojana Beneficiary List

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को प्रतिवर्ष 2000-2000 रूपए की तीन क़िस्त प्रदान की जाती है, अर्थात किसानों को हर साल 6000 रूपए दिए जाते है. यह राशि लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है, केंद्र सरकार द्वारा हर क़िस्त से पहले, इस योजना के लाभार्थियों की सूचि जारी की जाती है.

PM Kisan Yojana ऑनलाइन सूचि जारी, ऐसे देखें नाम

PM किसान योजना की अगली क़िस्त के लाभार्थियों की सूची, केंद्र सरकार द्वारा ऑफिसियल वेबसाइट पर अपलोड कर दी गयी है. यहाँ हम आपको PM Kisan Samman Nidhi Yojana में लाभार्थियों की अपना नाम कैसे देखना है, इसके बारे में बताने जा रहें है.

  • सबसे पहले आपको इस योजना की Official Website पर जाना होगा !
  • इसके बाद “Farmer Corner” के सब मेनू में ”Beneficiary List” पर क्लिक करें !
  • इसके अगले पेज पर अपने राज्य , जिला , तहसील, ब्लॉक और अपने गांव का चयन कर ”Get Report ” पर क्लिक करे
  • इसके बाद एक सूचि खुलेगी , यही सूचि प्रधानमंत्री किसान योजना लाभार्थी सूचि है ! इसमें अपना नाम देखे !

यदि सुची में नाम न हो तो क्या करे

इन माध्यमों से आप PM किसान योजना के अधिकारियो से संपर्क कर सकते है –

PM Kisan Helpline Number – 155261 / 011-24300606
Phone – 0120-6025109
E-mail – [email protected]

जरुरी लिंक्स
प्रधानमंत्री किसान योजना आधिकारिक वेबसाइट – pmkisan.gov.in

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना – आवेदन करे और पाए 10,000 रु।

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना | शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना ऑनलाइन आवेदन | स्ट्रीट वेंडर लोन योजना | शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | Shahari Path Vyavsayi Utthan Yojana

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना: कोरोना वायरस के कारण भारत में लॉकडाउन के चलते सभी क्षेत्र बहुत बुरी तरह से प्रभावित हुए है. इनमे छोटे व्यवसायी जो छोटा मोटा काम करके अपना गुजारा करते है, उन्हें भी काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है.

ऐसे में भारत सरकार ने अपने बजट घोषणा पत्र में, व्यवसायियों की परेशानियों को देखते हुए “शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना” का शुभारम्भ किया है. इस योजना के तहत व्यवसायी अपना कारोबार दोबारा से शुरू करने के लिए 10000 रूपए तक का ऋण ले सकते है. इस आर्टिकल में हम इस योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहें है, इसलिए आपसे अनुरोध है, की लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

क्या है शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना ?

यह केंद्र सरकार की लाभकारी योजनाओं में से एक है, जिसे प्रधानमंत्री पथ विक्रेता आत्मनिर्भर निधि कार्यक्रम के अंतर्गत निकाली गयी है। इस योजना के तहत स्ट्रीट वेंडर, छोटे व्यवसायियों को कार्यशील पूँजी के रूप में 10000 रूपए ऋण के रूप में उपलब्ध कराई जाएंगी।

Also Read: ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ – 1 जून 2020 से देश में लागु, ऐसे बनाये नया राशन कार्ड।

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना के लाभ –

  • इस योजना के तहत शहरी व्यवसायियो को ₹10,000 की कार्यशील पूंजी ऋण के रूप में उपलब्ध कराई जाएंगी। इस राशि के ब्याज पर 7% सब्सिडी केंद्र सरकार द्वारा दी जाएंगी।
  • प्रदेश के शहरी व्यवसायियों की मदद के लिए कार्यशील पूंजी के ऋण पर शेष ब्याज (लगभग 5%) की राशि सब्सिडी के रूप में मध्यप्रदेश शासन देगा। (केवल मध्यप्रदेश वालो के लिए)
  • शहरी असंगठित कामकारो को उनकी मांग के आधार पर कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराई जाएंगी।

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आधार से लिंक मोबाइल नंबर
  • समग्र नंबर
  • बैंक खाता नंबर बैक का आईएफएससी कोड

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना के लिए आवेदन कैसे करे ?

  • सबसे पहले आवेदक को इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट खुलने के बाद आपको “पंजीयन करे” विकल्प से पंजीयन प्रारंभ करें।
  • मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त करें एवं उसकी प्रविष्टि कर जिला नगरीय निकाय पथ विक्रता चुनें।
  • अपना आधार नम्बर प्रविष्ट करें ओैर आधार से लिंक मोबाइल नम्बर पर प्राप्त ओटीपी प्रविष्ट कर स्वयं का सत्यापन करें।
  • आधार से मोबाइल लिंक नही होने की स्थि‍ति में किसी कियोस्क पर बायोमेट्रिक माध्यम से आधार सत्याापन करा सकते हैं।
  • आधार सत्यासपन उपरांत समग्र नम्बर की प्रविष्टि करें। समग्र नम्बर सही होने पर परिवार के सदस्यों का विविरण स्वतः आ जाएगा। कृपया ध्यान दें कि आपके आधार और समग्र दोनों के प्रथम नाम एक समान होना चाहिए। अंतर होने पर पंजीयन नही हो सकेगा। ऐसी स्थिति में समग्र अथवा आधार की जानकारी में आवश्यक सुधार करवाएं तदुपरांत पंजीयन करें।
  • परिवार के सदस्यों का समग्र से प्राप्त विवरण में उन सदस्‍यों को चुनें जो आपके व्यवसाय में सहयोग करते हैं।
  • आपने वांछित व्यएवसाय के बारे में अन्य जानकारी प्रदान करें और भरी हुई जानकारी सबमिट करें।
  • घोषणा के बिन्दुओ को चेक करें एवं अपना आवेदन सबमिट करें।
  • आवेदन सबमिट करने के बाद पावती प्राप्त होगी जिसे प्रिंट कर/स्क्रीनशॉट लेकर सुरक्षित रखें। सा‍थ ही आपके मोबाइल पर आवेंदन क्रमांक सहित पावती के रूप में प्राप्त् होगा।
  • आपके द्वारा प्रस्तुरत आवेदन का संबधित नगरीय निकाय द्वारा सत्या्पन कराया जाएगा। जानकारी सही प्राप्ता हो जाने पर आपको परिचय पत्र एवं प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
  • सत्यापन के दौरान विसंगति जाने पर सुधार का एक अवसर दिया जाएगा। जिसकी सूचना SMS से दी जाएगी। त्रटि सुधार के लिए पोर्टल पर “अपडेट करे” विकल्प की सहायता से मोबाइल नंबर ओटीपी प्रविष्ट कर आवश्यक संशोधन करें।
  • पथ विक्रेता के रूप में पहचान पत्र एवं प्रमाण पत्र जारी किए जाने की सूचना SMS के माध्यरम से भी दी जाएगी एवं दोनों अभिलेखों का लिंक भी भेजा जाएगा जिससे पथ विक्रेता स्व्यं डाउनलोड कर सकेंगे।

Other Links

(रजिस्ट्रेशन) दिल्ली मजदूर सहायता योजना : मजदूरों को मिलेंगे Rs. 5000 की धनराशि

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

Sauchalay Online Registration – शौचालय बनाने के लिए 12,000 रु पाए।

Sauchalay Online Registration|शौचालय निर्माण के लिए आवेदन कैसे करें|शौचालय योजना ऑनलाइन फॉर्म|sauchalay online form gramin|sochalay yojana list|शौचालय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020

Sauchalay Online Registration Form 2020 : देश में ऐसे बहुत से गरीब है, जो आर्थिक तंगी के कारण अपना शौचालय बनवाने में असमर्थ है. ऐसे गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों के लिए स्वच्छ भारत अभियान के तहत सहायता राशि दी जाती है, ताकि वह अपने घर में शौचालय बनवा सके, और अपने गाँव तथा शहर को स्वच्छ रख सके. स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकार पात्र लोगों को 12000 रूपए की धनराशि प्रदान कर रही है.

Sauchalay Online Registration – शौचालय बनाने के लिए 12,000 रु पाए।

अगर आप शौचालय निर्माण के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो इस इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय बनवाने हेतु ऑनलाइन ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें ? आवेदन करने के बाद, स्थानीय निकाय द्वारा भौतिक सत्यापन किया जाएगा. पात्र होने पर पर आपको राशि मिल जायेगी. यह सहायता राशि किस्तों के रूप में सीधे आपके बैंक खाते में हस्तांतरित की जायेगी. इसलिए प्रार्थी का बैंक खाता होना भी आवश्यक है.

Sauchalay Online Registration 2020

Article Categoryशौचालय ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
StateAll State
DepartmentDepartment Of Drinking Water And Sanitaion Ministry Of Jal Shakti Govt. Of India
Year2020
Official Websiteswachhbharaturban.gov.in
ContactContact Us

शौचालय बनवाने के लिए आवेदन करने की जरुरी योग्यता

शौचालय निर्माण करने हेतु सरकार द्वारा कुछ जरूरी मापदंड निर्धारित किये है, यदि आप इन पात्रता मापदंडों को पूरा करते हैं तभी आपको इस योजना का लाभ दिया जाएगा|

  • यह योजना के लिए वे ही लोग आवेदन कर सकते है, जो नए शौचालय बनाना चाहते हैं।
  • यह योजना का लाभ लेने के लिए वे ही व्यक्ति योग्य होंगे, जो की गरीबी रेखा के नीचे आते हैं।
  • यह योजना के लिए वह लोग पात्र नहीं होंगे जिन्होंने पहले शौचालय बना लिया है और फिर से शौचालय बनाना चाहते हैं।

शौचालय निर्माण हेतु आवश्यक दस्तावेज

अगर आप स्वच्छ भारत अभियान योजना के अंतर्गत शौचालय बनवाने हेतु आवेदन कर रहे हैं तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है :-

  • आधार कार्ड|
  • बैंक पासबुक
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो|
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आई

फ्री शौचालय बनवाने हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (HOW TO APPLY ONLINE TO MAKE FREE TOILETS)

  • FREE Sauchalay Online Apply करने हेतु आप ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करें
  • इसके बाद New Applicant Click Here पर क्लिक करें
  • अब इसके बाद Sauchalay Online Registration Form भरे और रजिस्टर के बटन पर क्लिक करें
  • रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको एक यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा अब ID और पासवर्ड से लॉगिन करें
  • लॉगिन होने के बाद आपके सामने आपका फॉर्म खुल जाएगा अब आपको इस फॉर्म को पूरा भरना है |
  • इसमें मांगी गई सभी जानकारी आपको अच्छी तरह पढ़कर भरनी है|
  • इसमें आपको एक बात का ध्यान रखना है जो भी आप आधार नंबर यहां पर दें और जो भी यहां पर अपना अकाउंट नंबर डालें उससे आपका आधार कार्ड लिंक होना चाहिए अगर लिंक नहीं होगा तो आपको सब्सिडी की राशि नहीं दी जाएगी
  • इसमें आपको आपको अपने सभी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा
  • फार्म सफलतापूर्वक भरे जाने के बाद एग्री एंड अप्लाई के बटन पर क्लिक करें और फॉर्म को सफलतापूर्वक सबमिट करें|

शौचालय निर्माण के लिए ऑफलाइन आवेदन

  • यदि आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पा रहे हैं तो आप शौचालय निर्माण के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं|
  • इसके लिए शहरी क्षेत्र के लोगों को नगर निगम, नगर पालिका और ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अपने नजदीकी पंचायत के कार्यालय में जाना होगा|
  • वहां पर आप स्वच्छ भारत अभियान के तहत रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं ||
  • अब इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म को भरकर, सभी दस्तावेजों को संलग्न कर नगर निगम, नगर पालिका, पंचायत के कार्यालय में जाकर जमा करवाइए |
  • आपका ऑफलाइन आवेदन हो जाएगा|

‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ – 1 जून 2020 से देश में लागु, ऐसे बनाये नया राशन कार्ड।

एक देश एक राशन कार्ड | वन नेशन वन राशन कार्ड | एक देश एक राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन | One Nation One Ration Card

एक देश एक राशन कार्ड

दोस्तों, केंद्र सरकार ने “एक देश एक राशन कार्ड” योजना 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में, 1 जून 2020 से लागू कर दी है, जो की प्रवासी मजदूरों और श्रमिकों के लिए काफी अच्छी खबर है. इससे पहले यह योजना 12 राज्यों में 1 जनवरी 2020 से लागु की गयी थी। इस लेख में हम इस “एक देश एक राशन कार्ड” योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहें है. तो चलिए जानते इस योजना के बारे में :-

क्या है ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ योजना ?

इस योजना के लागू होने से पहले राशन कार्ड धारक सिर्फ उसी राज्य से गेंहू प्राप्त कर सकते थे, जिस राज्य का वो निवासी है, या जहाँ यह राशन कार्ड बना हुआ है. लेकिन केंद्र सरकार की इस योजना के अंतर्गत, लाभार्थी को एक डिजिटल कार्ड प्रदान किया जाएगा. इस कार्ड के जरिये लाभार्थी अपने हिस्से का राशन (गेंहू, चावल, चीनी) दूसरे राज्यों से भी प्राप्त कर सकता है.

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म | PM Kisan Tractor Scheme

एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य:

इस योजना का मुख्य सार्वजनिक वितरण प्रणाली में पारदर्शिता लाना। भ्रस्टाचार को कम करना तथा जिन व्यक्तियों के एक से अधिक राशन कार्ड बने हुए हैं, उन्हें निरस्त करना.

FAQ,s

पुराने राशन कार्ड का क्या होगा ?

आपके पुराने राशन को नए राशन में बदल दिया जाएगा.

नया राशन कार्ड कैसा होगा ?

नया राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा, जिसे आसानी से पोर्टेबल किया जा सके। नया राशन कार्ड 10 अंको का होगा जिस में शुरू के 2 अंक राज्य कोड होंगे।

राशन कैसे मिलेगा ?

जैसे आपको पहले राशन मिलता था, ठीक उसी प्रकार से बायोमैट्रिक पद्धति से अंगूठा लगाकर राशन प्राप्त कर सकते है.

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म | PM Kisan Tractor Scheme

PM Kisan Tractor Scheme | पीएम किसान ट्रेक्टर योजना | पीएम किसान ट्रेक्टर योजना एप्लीकेशन फॉर्म | किसान ट्रेक्टर योजना | प्रधानमंत्री किसान ट्रेक्टर सब्सिडी योजना | नया ट्रेक्टर सब्सिडी पर ख़रीदे | कृषि यंत्र सब्सिडी पर ख़रीदे

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020: दोस्तों जैसा की आप सभी है की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा कई लाभकारी योजनाओं की शुरुआत की गयी है. प्रधानमंत्री द्वारा किसानों के आर्थिक और सामाजिक उत्थान के लिए ऐसी ही एक और योजना शुरू की गयी है जिसका नाम PM Kisan Tractor Yojana है.

जैसा की आप सभी जानते है की, भारत एक कृषि प्रधान देश है और भारत 90% जनता कृषि पर निर्भर है। इसलिए बहुत सारे किसान हैं जो अपने परिवार के लिए खेती करते हैं और हमारे परिवारों के लिए फसलों का उत्पादन करते हैं उनके लिए एक अच्छी खबर है कि हमारे राज्य के पीएम ने एक नई योजना शुरू की है जो भारत के किसानों से संबंधित है उस योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना है । अगर आप भी किसान हैं तो यह योजना आपके लिए है। इस योजना के तहत आप नए ट्रैक्टर को उसकी लागत की आधी कीमत पर खरीद सकते हैं।

PM Kisan Tractor Yojana 2020

किसान भाइयों, यदि आप नया ट्रेक्टर खरीदने की योजना बना रहें हैं, तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। पीएम किसान ट्रेक्टर योजना के तहत आप आधी कीमत पर ट्रेक्टर खरीद सकते है. क्योंकि इस योजना के तहत, सरकार आपको 20% से 50% तक की सब्सिडी प्रदान करती है। इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के बाद आप सब्सिडी पर ट्रैक्टर खरीद सकते हैं. इस लेख में हम आपको पीएम किसान ट्रैक्टर योजना 2020 से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता मानदंड, दस्तावेजों की सूची आदि के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहें है, इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

कृषि नवीन ट्रैक्टर योजना 2020

यदि आप महाराष्ट्र से हैं, तो आप कृषि नवीन ट्रैक्टर योजना 2020 में भी शामिल होंगे । इस योजना के तहत केंद्र सरकार एक नया ट्रैक्टर खरीदने के लिए सब्सिडी प्रदान करती है। यह योजना केवल उन किसानों के लिए लागू है जो ट्रैक्टर इस्तेमाल फसल उत्पादन के लिए कर रहे हैं। यह योजना वाणिज्यिक उपयोगकर्ताओं के लिए लागू नहीं है। इस योजना का लाभ लेने के लिए महाराष्ट्र के किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा।

प्रधानमंत्री ट्रैक्टर योजना

इस योजना की आधिकारिक घोषणा करने के बाद, सरकार इस योजना के तहत ऋण की सुविधा भी प्रदान करती है। ताकि किसान इस योजना का अधिक से अधिक लाभ ले सकें। हम आपको इस बात की जानकारी भी देते हैं कि आप इस योजना के तहत ऋण के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं। इस योजना का ऋण भी दूसरों की तरह बहुत सरल है। बैंक द्वारा ऋण प्राप्त करने के बाद, आप अपने लिए नया ट्रैक्टर खरीद सकते हैं। और आवेदक को भारत सरकार द्वारा दी जाने वाली 50% की सब्सिडी प्रदान की जाती है।

अटक गईं पीएम किसान सम्मान निधि योजना की क़िस्त : यूँ आधार करें वेरीफाई और पाएं 6000 रूपए सालाना

प्रधानमंत्री किसान योजना का लाभ लेने हेतु आवश्यक दस्तावेज :–

  • आधार कार्ड
  • व्यक्तिगत पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • राशन कार्ड
  • जमीन के कागजात।
  • हाल ही में क्लिक पासपोर्ट आकार की तस्वीर।
  • वैध मोबाइल नंबर।

पीएम किसान ट्रैक्टर योजना के लाभ

  • जो भी किसान नया ट्रैक्टर खरीदना चाहते हैं लेकिन पैसे की कमी के कारण ऐसा नहीं कर पा रहे हैं। इस योजना के तहत आसानी से ट्रेक्टर खरीद सकते हैं।
  • ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन करने के बाद आप ट्रैक्टर और अन्य कृषि उपकरण खरीदने पर 20 से 50% अनुदान राशि प्राप्त कर सकते हैं।
  • यह सब्सिडी राशि सीधे आपके बैंक खाते में स्थानांतरित की जा सकती है।
  • आप अपनी पसंद की किसी भी कंपनी का ट्रैक्टर खरीद सकते हैं।
  • महिला किसान भी इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

PM AWAS YOJANA LIST : आवास योजना सूचि जारी, आधार नंबर से खोजे अपना नाम

पीएम ट्रैक्टर योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कैसे करें ?

इस पीएम ट्रैक्टर योजना 2020 के लिए आवेदन करने के लिए दो मोड हैं, एक ऑनलाइन है और दूसरा ऑफलाइन है।

ऑनलाइन मोड:

  • किसान ट्रैक्टर सब्सिडी योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए सरकार के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां आपको रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन फॉर्म मिलेगा उसी पर क्लिक करें। क्लिक करते ही आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा।
  • इस आवेदन फॉर्म में पूछी गयी समस्त सूचनाएं ध्यानपूर्वक भरें.
  • अपने स्कैन किए हुए दस्तावेज़ अपने आवेदन पत्र के साथ अपलोड करें।
  • आपके दिए गए मोबाइल नंबर में आपको पंजीकरण आईडी मिलेगा। भविष्य में इस आईडी से आप अपने आवेदन की स्थिति के बारे में जान सकते हैं।

ऑफ़लाइन:

कुछ राज्य ऑनलाइन आवेदन पत्र स्वीकार नहीं करते थे। तो यहां आपको ऑफ़लाइन आवेदन पत्र जमा करना होगा। ऑफ़लाइन पंजीकरण करने के लिए, आपको अपनी नजदीकी कृषि विभाग कार्यालय में जाना होगा और वहां से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा। इस फॉर्म को अपनी लिखावट से भरें और आवेदन पत्र के साथ अपने दस्तावेजों को संलग्न करें। आवेदन पत्र कार्यालय में जमा करा दे.

क्या है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) और कैसे उठाएं इसका लाभ?

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana | पीएम गर्भावस्था सहायता योजना आवेदन | प्रधान मंत्री मातृ वंदना आवेदन फॉर्म | Mantri Matritva Vandana Yojana in Hindi

क्या है प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY)

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY): कुपोषण ने ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में भारतीय महिलाओं को अपंग बना दिया है। ग्रामीण भारतीय महिलाओं का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अल्पपोषण और एनीमिया से पीड़ित है। ख़राब पोषण बच्चे के जन्म पर बहुत अधिक प्रभाव डालता है। एक अल्पपोषित माँ लगभग कम वजन के बच्चे को जन्म देती है। इससे अंततः शिशु और मां का स्वास्थ्य भी खराब होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए, भारत के प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना शुरू की। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) को पहले इंदिरा गांधी मातृ सहयोग योजना (IGMSY) के नाम से जाना जाता था। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिला व माताओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) के उद्देश्य

हालाँकि, गर्भावस्था सहायता योजना गर्भवती महिलाओं को कई तरह से मदद करेगी लेकिन इस योजना के दो मुख्य उद्देश्य हैं

  • कामकाजी महिलाओं को उनके नुकसान की भरपाई के लिए आंशिक मुआवजा प्रदान करना और उनका उचित पोषण सुनिश्चित करना।
  • गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और नकद प्रोत्साहन के माध्यम से पोषण के प्रभाव को कम करना।
  • प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) जिसे पहले यूपीए शासन के दौरान इंदिरा गांधी मातृ सहयोग योजना के रूप में नामित किया गया था, को दूसरी बार नाम दिया गया है। यह योजना महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा लागू की जाएगी।

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) के लाभ

  • इस योजना से गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को अपने पहले जीवित बच्चे के जन्म के लिए लाभ होगा। लाभ राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में DBT मोड के माध्यम से भेजी जाएगी। रिपोर्टों के अनुसार, सरकार निम्नलिखित के रूप में किश्तों में राशि का भुगतान करेगी।
  • पहली किस्त: 1000 रुपए गर्भावस्था के पंजीकरण के समय
  • दूसरी किस्त: 2000 रुपए,यदि लाभार्थी छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच कर लेते हैं ।
  • तीसरी किस्त: 2000 रुपए, जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है ।

1000 रुपये उन लाभार्थियों को दिये जायेंगे जो कि अपने बच्चे को किसी अस्पताल में जन्म देते हैं और जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थी हो. 

किश्तशर्तेँरकम
पहली किश्तगर्भावस्था का प्रारंभिक पंजीकरण₹ 1000 / –
दूसरी किस्तकम से कम एक एएनसी प्राप्त की (गर्भावस्था के 6 महीने बाद दावा किया जा सकता है)₹ 2,000 / –
तीसरी किस्त। जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है
ii बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है ।
₹ 2,000 / –

प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना – छोटे विक्रेंताओं को मिलेगा लाभ – PM Swanidhi scheme 2020

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) निम्न श्रेणी के गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए लागू नहीं होगी।

  1. जो केंद्रीय या राज्य सरकार या किसी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के साथ नियमित रोजगार में हैं।
  2. जो किसी अन्य योजना या कानून के तहत समान लाभ प्राप्तकर्ता हैं।

आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी
  • बैंक या पोस्ट ऑफिस खाता की पासबुक
  • आधार न होने पर पहचान संबंधी अन्य विकल्प
  • पीचएसी या सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड
  • सरकारी विभाग/कंपनी/संस्थान से जारी कर्मचारी पहचान पत्र

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (PMMVY) ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

लाभार्थी के पास सीधे पंजीकरण करने के लिए कोई ऑनलाइन तरीका नहीं है। पात्र महिलाओं को उस विशेष राज्य / केंद्रशासित प्रदेश के कार्यान्वयन विभाग के आधार पर आंगनवाड़ी केंद्र (AWC) / अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा में योजना के तहत पंजीकरण करना आवश्यक है।

PMMVY के तहत मातृत्व लाभ का दावा करने की ऑनलाइन प्रक्रिया क्या है?

मातृत्व लाभ का लाभ उठाने के उद्देश्य से, जो पात्र हैं उन्हें पीएमएमवीवाई योजना के तहत पंजीकरण कराना होगा। यह उस संबंधित राज्य / केंद्रशासित प्रदेश के कार्यान्वयन विभाग के आधार पर, एक आंगनवाड़ी केंद्र या अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा में किया जा सकता है। लाभार्थी को पंजीकरण के लिए निर्धारित फॉर्म को भरना होगा, किस्त का दावा करना होगा और आंगनबाड़ी केंद्र या अनुमोदित स्वास्थ्य सुविधा को सौंपना होगा।

PMMVY के तहत मातृत्व लाभ का दावा करने की ऑफ़लाइन प्रक्रिया क्या है?

व्यक्तियों के पास PMMVY पोर्टल (https://wcd.nic.in/) से निर्धारित प्रपत्र डाउनलोड करने का भी विकल्प है । यहां, इकाई को बस संबंधित स्कीम फैसिलिटेटर के लॉगिन क्रेडेंशियल्स के साथ लॉग इन करना होगा।

  • Form 1 A – एक नए लाभार्थी को पंजीकृत करने और पहली किस्त का दावा करने के लिए भरा जाना है।
  • Form 1 B – दूसरी किस्त का दावा करने के लिए भरा जाता है।
  • Form 1 C – तीसरे किस्त का दावा करने के लिए लाभार्थी के लिए भरा जाए।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana (PMMVY) हेल्पलाइन नंबर

PMMVY के आधिकारिक संपर्क विवरण हैं:
उप निदेशक PMMVY महिला और बाल विकास विभाग
Government of NCT of Delhi, 1, Canning Lane (Pandit Ravi Shankar Shukla Lane), Near Bharatiya Vidya Bhavan Bus Stop, Kasturba Gandhi Marg, New Delhi – 110001.
फोन: – 011 – 23380329
ईमेल: [email protected]

SMAM योजना | कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक मिलेगी सब्सिडी | जानिये रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

SMAM योजना | SMAM किसान योजना | SMAM Scheme Apply Online | SMAM Yojana Registration | SMAM Subsidy Scheme | SMAM योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज | SMAM कृषि यन्त्र 50-80 प्रतिशत सब्सिडी योजना

खुशखबरी! SMAM योजना के तहत कृषि यंत्रों पर भारी सब्सिडी; जानिए विवरण

SMAM योजना: हेलो किसान भाइयों आज हम आपको एक और किसान योजना से अवगत कराने जा रहें है. वह योजना है SMAM योजना। इस योजना के अंतर्गत पात्र किसान लाभार्थी को कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक सब्सिडी मिलेगी। फसलों की पैदावार बढ़ाने और किसानों की आय को दोगुना करने के लिए, यह योजना लागू की गयी है. क्या है यह योजना किन-किन लोगों को मिलेगा इस योजना का लाभ पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख पर अंत तक बने रहिये.

SMAM योजना क्या है ?

किसानों को उन्नत किस्म की बीज, रासायनिक खाद, कीटनाशक, पानी की समुचित व्यवस्था करने के लिए आधुनिक कृषि यन्त्र की आवश्यकता होती है. आज के समय में सही तरीके से खेतों की सिंचाई, बुवाई, जुताई, कटाई आदि बिना आधुनिक यंत्रों के संभव नहीं है. इसलिए भारत सरकार द्वारा किसानों को आधुनिक कृषि यंत्रों को खरीदने के लिए SMAM योजना शुरू की गयी है. इस योजना के अंतर्गत किसानों द्वारा आधुनिक कृषि यन्त्र खरीदने पर 50-80 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जायेगी. आधुनिक कृषि यंत्रों के कारण किसान खेती करने के नए तरीके सीखेंगे जिससे फसलों की पैदावार में बृद्ध होगी तथा किसानों की आर्थिक स्थिति भी सही बनी रहेगी.

प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना – छोटे विक्रेंताओं को मिलेगा लाभ – PM Swanidhi scheme 2020

SMAM Yojana का उद्देश्य

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य फसलों की पैदावार में बृद्धि करना है.
  • किसान पुरानी तकनीक को बदले नयी तकनीक अपनाएँ
  • किसानों की आय में बृद्धि हो सके.
  • आधुनिक तकनीक को अपनाकर उनके लिए खेती कार्य आसान हो जाए.

किसान कृषि यन्त्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

जो किसान कृषि यन्त्र सब्सिडी पर लेना चाहते है, वे आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है. यहाँ हम आपको ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कुछ आसान स्टेप्स बताने जा रहें है.

  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट : https://agrimachinery.nic.in/Farmer/SHGGroups/Registration
  • होम पेज ओपन होने के बाद आपको पंजीकरण ऑप्शन में जाकर “Farmer” पर क्लिक करना है.
  • उसके बाद पंजीकरण फॉर्म में आपसे जो पूछा जाए, उन सभी विवरण को सावधानीपूर्वक भरें.

Raj Kaushal Portal Registration राज कौशल पोर्टल Workers Online Employment Exchange Rajasthan

SMAM Scheme में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • किसान का पासपोर्ट साइज फोटो
  • भूमि विवरण जोड़ते समय रिकॉर्ड करने के लिए भूमि का अधिकार (आरओआर).
  • व्यक्तिगत पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • एससी / एसटी / ओबीसी के मामले में जाति श्रेणी प्रमाणपत्र की प्रति.
  • मोबाइल नंबर

SMAM टोल फ्री नंबर

अधिक जानकारी के लिए किसान अपने राज्य के अनुसार निम्नलिखित नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं –
उत्तराखंड – 0135- 2771881
उत्तर प्रदेश – 9235629348, 0522-2204223
राजस्थान – 9694000786, 9694000786
पंजाब- 9814066839, 01722970605
मध्य प्रदेश- 7552418987, 0755-2583313
झारखंड – 9503390555
हरियाणा – 9569012086
बिहार – 9431818911, 9431400000

अटक गईं पीएम किसान सम्मान निधि योजना की क़िस्त : यूँ आधार करें वेरीफाई और पाएं 6000 रूपए सालाना

PM Kisan Yojana Aadhaar Card Verification | PM Kisan Yojana | PMKY | पीएम किसान सम्मान निधि योजना |PM Kisan Samman Nidhi Yojana Aadhaar Corrction | PM Kisan Yojana Status | PM Kisan Samman Nidhi Beneficiary List | PM Kisan Samman Nidhi Yojana Online Apply | Kisan News

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना: जिन किसानों का आधार वेरीफाई नहीं हुआ है, उन किसानों की किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें अटक गयी है. यदि आपकी भी पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें अटक गयी है, तो आप घर बैठे मोबाइल फ़ोन के माध्यम से अपने आवेदन फॉर्म में सुधार करके पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें प्राप्त कर सकते है.

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभार्थियों को सालाना 6000 रूपए दिए जाते है. इस योजना की पांचवी क़िस्त किसानों को मिल चुकी है, तथा अगस्त में छठी क़िस्त आने की संभावना है. लेकिन ऐसे कई किसान है जिन्हे शुरूआती किस्तों के बाद पीएम किसान सम्मान निधि योजना की किस्तें नहीं मिल पाई है.

Also Read: PM Awas Yojana List

इसका मुख्य कारण यह है की, इस योजना का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड के वेरिफिकेशन को अनिवार्य कर दिया है. ऐसे कई किसान हैं, जिनके आधार कार्ड का वेरिफिकेशन नहीं हो पाया है, जिसके कारण उनकी किस्तें अटक गयीं है. इस लेख में हम आपको बताएं की कैसे आप Aadhaar Card वेरीफाई करा सकते है, और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है.

Aadhaar Card वेरीफाई कैसे करें ?

आधार कार्ड वेरीफाई न होने की वजह से कई किसानों को शुरूआती किस्तें मिलने के बाद बाकी की किस्तें रुक गयी है. किस्तें प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना आधार कार्ड वेरीफाई करवाना होगा. आधार कार्ड वेरीफाई करवाने के लिए हम आपको कुछ आसान स्टेप्स बताने जा रहें है, जिससे आप घर बैठे अपना आधार कार्ड ऑनलाइन वेरीफाई करवा सकते है.

  • आधार कार्ड के वेरिफिकेशन के लिए सबसे पहले आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट : https://pmkisan.gov.in/
  • आधिकारिक वेबसाइट ओपन होने के बाद Farmers Cornor के ऑप्शन में जाकर Edit Aadhaar Failure Record पर क्लिक करना होगा.
  • Edit Aadhaar Failure Record पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा, इसमें आपको आधार नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा.
  • इसके बाद आपको अगले पेज पर आपको आधार कार्ड में जो नाम है
  • सेम वही नाम इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में डालना है, और उसके बाद Update करना है.
  • इस प्रकार आप आसानी से अपने आधार कार्ड को वेरीफाई करवा सकते है.

कामधेनु डेयरी योजना 2020 – Kamdhenu Dairy Scheme Rajashan

PM Kisan Yojana: अकाउंट डिटेल्स करें दुरुस्त

कई किसानो द्वारा बैंक डिटेल्स में कई खामियां पाई गयी है, जिसके कारण उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल पाता। ऐसे में आपको अकाउंट नंबर, किसान का नाम, IFSC कोड, और अन्य जानकारियां करेक्ट करनी होंगी. आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आप यह जानकारिया सही कर सकते है.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन कैसे करें ?

जिन किसान भाइयों ने अभी तक इस योजना में आवेदन नहीं किया है वह अपने नजदीकी CSC सेंटर जाकर आवेदन कर सकते है. आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें की अभी तक इस योजना से 9.5 करोड़ किसान जुड़ चुके है. केंद्र सरकार ने इस योजना के अंतर्गत 14 करोड़ किसानों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पास बुक
  • किसान के स्वयं के खेत कि जमाबंदी
  • मोबाइल नम्बर
  • पास पोर्ट साइज फोटो

Toll Free Number

पीएम-किसान हेल्पलाइन नंबर 155261/1800115526 (टोल फ्री), 0120-6025109

Important Links