बिहार कृषि इनपुट योजना 2020- आवेदन और पात्रता की जानकारी हिंदी में जाने


बिहार कृषि इनपुट योजना बिहार सरकार द्वारा राज्य के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गयी है. इस योजना के तहत किसानों को प्रति हेक्टेयर के हिसाब से अनुदान देने का प्रावधान किया गया है. अगर किसी किसान की फसल ओलावृष्टि या बारिश के कारण नष्ट हो जाती है, तो किसानों को अनुदान के रूप में सहायता राशि दी जाती है. इस लेख में हम इस योजना से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने जा रहें है जैसे बिहार कृषि इनपुट योजना के लिए आवेदन की पात्रता क्या है, बिहार कृषि इनपुट योजना के लिए किसानों को कितने रूपए की सहायता मिलती है, बिहार कृषि इनपुट योजना के लिए आवेदन कैसे करना है, आदि जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख पर अंत तक बने रहे.

बिहार कृषि इनपुट योजना 2020

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की, केंद्र और राज्य सरकार मिलकर किसानों के सामाजिक और आर्थिक उत्थान के लिए कई लाभकारी योजनाओं का संचालन करती है. ऐसी ही एक योजना है जो बिहार राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी है इस योजना का नाम है, बिहार कृषि इनपुट योजना।  बिहार कृषि इनपुट योजना के तहत जिन किसानों की फसलें प्राकृतिक आपदा, जैसे ओलावृष्टि, बारिश आदि के कारण नष्ट हो जाती है उन किसानों को सहायतार्थ राशि देने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है. इस योजना के तहत बिहार राज्य के जिन किसानों की फसलें नष्ट हो गयी है उन्हें निम्न प्रकार अनुदान राशि दी जायेगी.

  • असिंचित क्षेत्र की फसल हो तो उसके लिए 6800 रूपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से
  • सिंचित क्षेत्र के लिए 13500 रूपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से तथा
  • कृषि योग्य भूमि जहाँ बालू / सिल्ट का जमाव 3 इंच से अधिक हो उसके लिए 12200 रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान दिया जायेगा |

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

krishi input anudaan yojana

Bihar Krishi Input Yojana 2020 Highlight

योजना का नाम बिहार कृषि इनपुट योजना
विभाग का नाम प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कृषि विभाग, बिहार सरकार
योजना शुरू की गई बिहार राज्य सरकार द्वारा
योजना के लाभार्थी बिहार राज्य के किसान वर्ग
आवेदन करने की प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से
योजना में लाभ प्रति हेक्टेयर के हिसाब से असिंचित क्षेत्र (6800 रूपये) और सिंचित क्षेत्र (13500 रूपये) तथा कृषि योग्य भूमि जहाँ बालू / सिल्ट (12200 रूपये)
अधिकारिक वेबसाइट- https://dbtagriculture.bihar.gov.in/

बिहार कृषि इनपुट योजना का उद्देश्य

भारत एक कृषि प्रधान देश है, भारत की ज्यादातर जनसँख्या कृषि पर निर्भर करती है. बिहार कृषि इनपुट योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की प्राकृतिक आपदा के कारण नष्ट हुई फसलों के लिए किसान को प्रति हेक्टेयर के हिसाब से अनुदान राशि के रूप में सहायता प्रदान की जाएगी, क्योंकि फसल के नष्ट हो जाने के कारण किसानों की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो जाती है और कई किसान तो आत्महत्या भी कर लेते है. इस प्रकार की समस्या को देखते हुए बिहार कृषि इनपुट योजना शुरू की गयी है.

एक देश एक राशन कार्ड योजना

बिहार कृषि इनपुट योजना के लिए पात्रता और दस्तावेज

  • आवेदनकर्ता बिहार राज्य का होना चाहिए.
  • आवेदनकर्ता के पास खेती करने योग्य भूमि होनी चाहिए.
  • भूमि के समस्त दस्तावेज होने चाहिए जैसे खसरा खतौनी नंबर, जमीन के विवरण का पूरा ब्यौरा.
  • किसान के पास एलपीसी/जमीन रसीद/वंशावली/जमाबंदी/विक्रय पत्र होना चाहिए।
  • किसान के पास आधार कार्ड, राशन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो और मोबाइल नंबर भी होना चाहिए.

बिहार कृषि इनपुट योजना के लिए आवेदन कैसे करें.

  • बिहार कृषि इनपुट योजना में आवेदन करने के लिए सर्वप्रथम आवेदक को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कृषि विभाग, बिहार सरकार की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/
  • आधिकारिक वेबसाइट ओपन होने के बाद कृषि इनपुट का विकल्प दिखाई देगा. इस विकल्प पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा इस पेज पर आपको किसान पंजीकरण संख्या भरनी होगी.
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा.
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गयी, सभी जानकारी सही सही भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार ऊपरवर्णित प्रक्रिया का पालन कर आप आसानी से कृषि इनपुट योजना में आवेदन कर सकते हो.

Paras

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *