आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना – आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व शर्तें


आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान | आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना | आत्‍मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान | आत्‍मनिर्भर UP रोजगार अभियान | Aatma Nirbhar UP Rojgaar Abhiyaan

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना: लॉकडाउन में महानगरों से उत्तर प्रदेश वापस आए मजदूरों और कामगारों (migrant workers) के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान‘ (Aatma Nirbhar Uttar Pradesh Abhiyan) शुरू कर दिया. प्रदेश सरकार का दावा है कि इस योजना के तहत करीब सवा करोड़ मजदूरों को रोजगार मिलेगा.

केंद्र की मोदी सरकार की इस योजना में वापस लौटे हुए मजदूरों को रोजगार देने, स्थानीय बिजनेस को प्रमोट करने और औद्योगिक संस्थानों के साथ पार्टनरशिप कर रोजगार के अवसर बढ़ाने का लक्ष्य है. इस योजना को लेकर सरकार का कहना है कि इन मजदूरों के लिए उनके गृह राज्य और घर के आस-पास ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है. मजदूरों की हितों की सुरक्षा के लिए एक आयोग का भी गठन किया गया है.

यूपी रोजगार अभियान  / Aatmnirbhar Rojgar Abhiyan 2020

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान का ही हिस्सा है जिसमें उत्तर प्रदेश को भी जोड़ा गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री UP के छह जिलों के ग्रामीणों के साथ बात भी करेंगे। सरकार का कहना है की राज्य में करीब 30 लाख प्रवासी श्रमिक अपने-अपने घर वापस लौट चुके हैं। जिनमें से 31 जिलों के 25,000 से भी अधिक प्रवासी श्रमिक अपने घर वापस आ चुके हैं। जिसमें 5 तेजी से उभरते हुए जिले भी शामिल हैं।

Aatma Nirbhar UP Rojgaar Abhiyaan Overview

योजना के बिन्दुके बारे में
योजना का नामआत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना
योजना किसके लिए है / लाभार्थीप्रवासी और बेरोजगार लोग
लाभार्थी चयन प्रक्रियालाभार्थी का चयन श्रम विभाग स्किल मैपिंग के जरिये करेगा
लॉन्च की तारीख26 जून 2020
योजना का उद्देश्य / प्रकारप्रवासी मजदूरों, कामगारों और बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराना
किसने लॉन्च करीPM नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान में शामिल विभाग

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान में निम्न लिखित विभाग शामिल हैं :-

  • ग्रामीण विकास विभाग
  • पंचायती राज
  • सड़क परिवहन और राजमार्ग
  • खनन
  • पेयजल और स्वच्छता विभाग
  • पर्यावरण विभाग
  • रेलवे
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा
  • सीमा पर सड़कों का निर्माण करने वाला विभाग
  • टेलीकॉम सैक्टर
  • कृषि विभाग

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान की रूपरेखा

1.25 करोड़ कामगारों के नियोजन की शुरुआत
2.40 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर भारत के तहत रु. 5900 करोड़ के कर्ज का वितरण
1.11 लाख नई इकाइयों को रु. 3226 करोड़ का ऋण वितरण
1.25 लाख कामगारों को निजी निर्माण कंपनियों से नियुक्ति पत्र
5000 कारीगरों को विश्वकर्मा श्रम सम्मान व ओडीओपी के तहत किट का वितरण

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान जरूरी शर्तें

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार योजना का लाभ लेने के लिए लोगों को निम्न्लिखित शर्तों का पालन करना जरूरी है:

1. इस योजना का लाभ लेने वाला नागरिक उसी राज्य का होना चाहिए जहां योजना क्रियान्वित है जैसे की वह उत्तर प्रदेश का नागरिक होना चाहिए।
2. व्यक्ति के पास आधार कार्ड होना भी अनिवार्य है।
3. काम पाने वाले नागरिक को अपना निवास प्रमाण पत्र भी दिखाना होगा जो यह पुष्टि करेगा की वह राज्य का नागरिक है या नहीं।
4. इस योजना में केवल 18 साल या इससे अधिक के लोग ही लाभ ले सकते हैं इससे कम आयु के व्यक्ति को काम नहीं दिया जाएगा।
5. कामगारों को उनकी स्किल या कौशल के आधार पर काम दिया जाएगा।

आत्‍मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन

उत्तर प्रदेश के जो प्रवासी मजदूर इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा रोजगार प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। क्योंकि आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान 2020 के तहत अभी आवेदन की प्रक्रिया को आरम्भ नहीं किया है। जैसे ही इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा आवेदन प्रक्रिया को शुरू कर दिया जायेगा हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बता देंगे। आवेदन प्रक्रिया शुरू होने के बाद अन्य राज्यों से आये प्रवासी मजदूर रोजगार पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *