Categories: PM Modi Sarkari Yojana

आत्मनिर्भर भारत अभियान: ऑनलाइन आवेदन. Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan लाभ व पात्रता

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan | पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज | आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | आत्म निर्भर योजना लाभ | Atma Nirbhar Bharat

आत्मनिर्भर भारत अभियान: प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 12 मई 2020 को आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना की घोषणा की, जिसका लाभ 130 करोड़ देशवासियों को मिलेगा. कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉक डाउन के चलते मजदुर और किसान वर्गों को काफी नुक्सान पहुंचा है. Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan (आत्मनिर्भर भारत अभियान) के अंतर्गत 20 लाख करोड़ का पैकेज रखा गया है, जो देश की जीडीपी का 10 प्रतिशत है.

आत्मनिर्भर भारत अभियान 2020

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना के अंतर्गत देश की आर्थिक व्यवस्था को सुचारु करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाना है. लॉक डाउन और कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते मजदूरों, श्रमिकों, कृषकों, छोटे उद्योगों को बहुत नुकसान झेलना पड़ा है. इस योजना के अंतर्गत चुने हुए लाभार्थियों तथा प्राइवेट सेक्टर को भी मदद दी जायेगी. इस लेख में हम जानेंगे इस योजना से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी इसलिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े.

Aatm Nirbhar Yojana 2020 Overview

योजना का नाम आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना
किसके द्वारा आरंभ की गई माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
सरकार केंद्र सरकार
लाभार्थी देश का हर एक नागरिक
उद्देश्य समृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
योजना की शुरुआत 12 मई 2020
राहत पैकेज की धनराशि 20 लाख करोड़ रुपए
आवेदन का मोड़ ऑनलाइन
योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmindia.gov.in/en/

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर योजना के उद्देश्य

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब, किसानों, मजदूरों, श्रमिकों, संगठित और असंगठित क्षेत्र के लोगों की आर्थिक मदद करना तथा देश की आर्थिक व्यवस्था को दुरुस्त करना. लॉक डाउन के चलते जिन किसानो को आर्थिक नुक्सान हुआ है उनकी भरपाई करना, तथा देश के लोगों को आत्मनिर्भर बनाना.

ये भी पढ़ें: किसान मानधन योजना के तहत किसानों को मिलेंगे 3000 रूपए – ऐसे करे ऑनलाइन पंजीकरण

आत्मनिर्भर भारत अभियान के लाभार्थी

  • गरीब नागरिक
  • स्ट्रीट वेंडर्स
  • माध्यम वर्गीय परिवार
  • मजदूर
  • किसान
  • प्रवासी मजदूर
  • लघु उद्योग
  • कुटीर उद्योग
  • मछुआरे
  • पशुपालक
  • संगठित व असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले कर्मचारी

आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज के अंतर्गत महत्वपूर्ण क्षेत्र

  • कृषि प्रणाली (Reformation Of Agricultural Supply Chain & System)
  • सरल और स्पष्ट नियम कानून (Rational Tax System)
  • उत्तम आधारिक संरचना (Reformation Of Infrastructure)
  • समर्थ और संकल्पित मानवाधिकार ( Capable Human Resources)
  • बेहतर वित्तीय सेवा (A Good Financial System)
  • नए व्यवसाय को प्रेरित करना (To Motivate New Business)
  • निवेश को प्रेरित करना (Provide Good Investment Opportunities)
  • मेक इन इंडिया (Make In India Mission)

आत्मनिर्भर भारत अभियान में वित्त मंत्री सीताराम द्वारा किया गए 9 ऐलान

  • 8 करोड़ प्रवासी मजदूरों को अगले दो महीने तक मुफ्त राशन मिलेगा.
  • अगले तीन महीने में एक देश एक राशन कार्ड
  • प्रवासी मजदूरों को कम किराए के मकान मिलेंगे.
  • मुद्रा लोन लेने वालो को राहत
  • 6 लाख से 18 लाख की सालाना आमदनी वालों को हाउसिंग लोन पर सब्सिडी
  • 50 हजार स्ट्रीट वेंडर्स के लिए 5 हजार करोड़ रूपए
  • 2.5 लाख किसानों के लिए 2 लाख करोड़ रूपए
  • किसानों के लिए 30 हजार करोड़ रूपए की मदद
  • आदिवासियों को रोजगार के स्त्रोत मुहैया कराये जाएंगे।

Also, Read

गेहूं खरीद हेतु किसान पंजीकरण UP – ई क्रय प्रणाली 2020 | UP Kisan Gehun Kharid Yojana

किसान मानधन योजना के तहत किसानों को मिलेंगे 3000 रूपए ऐसे करे पंजीकरण

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना लिस्ट में नाम कैसे? PM Awas Yojana Beneficiary List 2020

Published by
Paras