सुकन्या समृद्धी योजना आवेदन SSY Interest Rate, Application Form 2022

PM Sukanya yojana registration | सुकन्या समृद्धी योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन | sukanya samriddhi yojana pdf download | SSY Application Form PDF In hindi | Pradhan mantri SUKANYA YOJANA Interest Rate 2022 | pm sukanya samriddhi yojana online apply

Central Govt. द्वारा सुरू की गई Sukanya samriddhi yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) 2021-22 विशेष रूप से बालिकाओं के लिए समर्थित एक छोटी Saving Scheme है। इस SSY योजना के अनुसार, माता-पिता या कानूनी अभिभावक एक बालिका के नाम पर एक खाता खोल सकते हैं जब तक कि वह दस वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेती।योजना का उद्देश्य माता-पिता या अभिभावकों को अपनी महिला बच्चे की भविष्य की शिक्षा और शादी के खर्च के लिए एक फंड बनाने के लिए प्रोत्साहित करना है। दोस्तों यहां पर हम आप सभी को SSY Scheme 2022 के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं यहां पर हम sukanya yojana की details को विस्तार से समझेंगे और और साथ ही यहां पर आप सभी के लिए सुकन्या समृद्धि योजना In Hindi मैं पूरी जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी इसलिए आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें यहाँ योजना की पूरी डिटेल्स दी हुई है।

Sukanya Samriddhi Yojana Application Form 2022

Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धि योजना) नरेंद्र मोदी सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है, “Save for every girl child” के विचार को सुदृढ़ करने के लिए। “बेटी बचाओ बेटी पढाओ” अभियान के एक भाग के रूप में, सुकन्या समृद्धि खाता योजना एक छोटी बचत योजना है। इस योजना को घरेलू बचत प्रतिशत बढ़ाने के लिए मोदी सरकार की पहल का एक हिस्सा भी माना जा सकता है, प्रधानमंत्री जी की सुकन्या समृद्धि योजना से माता-पिता को भी लड़की को बचाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सकेगा, माता-पिता जो उनकी शिक्षा और शादी के खर्च से परेशान रहते हैं उन्हें इस चिंता से भी मुक्ति मिलेगी

Sukanya Samriddhi Yojana 2022
sukanya samriddhi yojana 2022

PM Sukanya Yojana Highlights

Scheme Name Sukanya Samriddhi Yojana 2022
Launch Date 4 December 2014
Launched by PM Narendra Modi
द्वारा प्रायोजित केंद्र सरकार
Beneficiary Girls Child
आधिकारिक वेबसाईट Yojana Available On All Banks Websites,
SBI
Interest rate 7.6%
पंजीकरण का साल 2022
आवेदन मोड ऑनलाइन
Department Finance Ministry

Sukanya Samriddhi Scheme Interest Rate 2022 (व्याज दर)

वैसे प्रधानमंत्री Sukanya Samriddhi Yojana सुनने में काफी अच्छी लगती है पर सबसे बड़ी बात यह है कि योजना योजना के तहत सुकन्या खाते पर वर्तमान समय में कितनी ब्याज दर (Rate of interest) मिल रही है क्योंकि सुकन्या समृद्धि खाते की ब्याज दर को सरकार द्वारा समय-समय पर घटाया और बढ़ाया गया है

SSY Scheme interest rate For 2022: 7.6%

सुकन्या समृद्धि योजना को सुविधाजनक बनाने और लोकप्रिय बनाने के लिए खाताधारकों को ब्याज की एक आकर्षक दर प्रदान करती है। सरकार द्वारा दी जा रही ब्याज की वर्तमान दर 7.6% प्रति वर्ष है। यह 9.1% था, जब इसे वित्त वर्ष 2015-16 में पेश किया गया था।

Time Period Rate of interest (%)
Jan to March 2022 (Q4 FY 2022-23) 7.6
Oct to Dec 2021 (Q3 FY 2021-22) 7.6
Jul to Sep (Q2 FY 2021-22) 7.6
April to June (Q1 FY 2021-22) 7.6
June 2020 – March 2021 7.6
1 April 2020 – 30 June 2020 7.6
1 January 2020 – 31 March 2020 8.4
April to June 2019 8.50
Jan to March 2019 8.50
Oct to Dec 2018 8.50
Jul to Sep 2018 8.10
Apr to Jun 2018 8.10
Jan to March 2018 8.10
Oct to Dec 2017 8.30
Jul to Sep 2017 8.30
Apr to Jun 2017 8.40
Jan to March 2017 8.50
Oct to Dec 2016 8.50
Jul to Sep 2016 8.60
Apr to Jun 2016 8.60
From 1 April 2015 9.20
From 1 April 2014 9.10

SSY

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना लिस्ट

सुकन्या समृद्धी योजना 2022 के लाभ

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई Sukanya Samriddhi Yojana से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक फायदे हैं। आइए हम इन कुछ विशेषताओं पर ध्यान दें जो इस योजना को लोकप्रिय और लाभदायक बनाने का लक्ष्य रखते हैं।

  • बाजार में अन्य सभी वित्तीय उत्पादों में से सुकन्या समृद्धि योजना पर उच्चतम ब्याज दरों में से एक की पेशकश की जा रही है
  • अंतिम मील वितरण में सभी संभावित विसंगतियों को खारिज करते हुए सीधे बालिका को परिपक्वता राशि दी जाएगी
    14 वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद भी, जब तक बच्चा 21 वर्ष का नहीं हो जाता, तब तक ब्याज मिलता है
  • खाता के संचालन को समझने के लिए परिपक्व होने वाली बालिका अपने दम पर खाते को संभालने के लिए स्वतंत्र है
  • Sukanya Samriddhi Yojana के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह एक एजेंट-मुक्त योजना है और ऐसे लोग सीधे आवेदन पत्र भरने और योजना का लाभ लेने के लिए अधिकृत बैंकों और डाकघरों तक पहुंच सकते हैं।
  • खाता खोलने की प्रक्रिया के माध्यम से किसी भी बिचौलिए का नेतृत्व करने की आवश्यकता नहीं है।
  • एक वर्ष में जमा की कोई निश्चित संख्या न्यूनतम वार्षिक राशि के अलावा रु 250 और अधिकतम राशि सीमा रु। 1.5 लाख है।
  • सुकन्या समृद्धी योजना को बजट 2015 में EEE कर का दर्जा दिया गया है जिसका अर्थ है कि यह योजना अपने सभी चरणों में कर छूट, जमा, वृद्धि और निकासी के लिए उपलब्ध है। यह संक्षेप में है कि यह योजना 100% कर मुक्त है।
  • जमा की राशि और जमा की आवृत्ति के संदर्भ में सुकन्या समृद्धी योजना की एक अनिवार्य विशेषता है।
  • सभी आर्थिक वर्गों के लोग इस प्रकार इस योजना का लाभ नियमित किस्तों या जमा राशियों की तय सीमा के बिना महसूस कर सकते हैं।
  • सुकन्या समृद्धि खाते में जमा खाताधारक के लिए सुविधाजनक होने पर किया जा सकता है

How To Check Sukanya Samriddhi Account Balance

चूंकि SSY योजना में एक समर्पित ऑनलाइन पोर्टल नहीं है, इसलिए कोई अन्य बचत योजनाओं की तरह ऑनलाइन योगदान, निकासी आदि नहीं कर सकता है। SSY बैलेंस की जाँच करने के लिए, किसी को अपना पासबुक (जो कि खाता खुलने पर दिया गया था) को डाकघर या बैंक में अपना खाता रखने के लिए अपडेट करवाना होता है।

कहने का मतलब यह है कि आपको अपना खाता बैलेंस अगर चेक करना है तो जिस बैंक में आपने यह Sukanya Samriddhi Yojana खाता खुलवाया था आप उस बैंक में जाकर अपनी पासबुक का बैलेंस अपडेट करा सकते हैं

Sukanya Samriddhi Account Benefits And Features

सुकन्या समृद्धि योजना के संबंध में सबसे सराहनीय कदम बैंकों और डाकघरों का प्रचारक और सुविधा के रूप में चयन है। बैंक, विशेष रूप से सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ-साथ भारत में डाकघरों में ग्रामीण और शहरी स्थानों को कवर करने के मामले में सबसे अधिक सक्रिय है। इसलिए, बैंकों और डाकघरों के इस नेटवर्क का लाभ उठाना भारतीय समाज के सभी आर्थिक और भौगोलिक वर्गों को शामिल करने की दिशा में एक अच्छा कदम है।

इसलिए यहां पर हम आप सभी को बताने वाले हैं योजना की सभी लाभों, विशेषताओं और नियमों के बारे में ताकि आपको योजना के बारे में और भी जानकारी प्राप्त हो सके और आप योजना के बारे में और अच्छे से समझ सके और साथ ही योजना में आवेदन करने के लिए आप उत्साहित हो सके सुकन्या समृद्धी योजना के महत्वपूर्ण लाभ और नियम हैं जिनकी लिस्ट नीचे दी गई है

  • कोई भी बालिका जो भारतीय निवासी है, सुकन्या योजना में आवेदन करने के लिए पात्र है।
    खाता बच्चे के माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा खोला जा सकता है और जब तक बच्चा 10 साल तक नहीं पहुंच जाता, तब तक वह खाता संचालित कर सकता है।
  • 10 वर्ष की आयु तक पहुंचने तक बच्चे के जन्म के बीच किसी भी समय खाते खोले जाने चाहिए।
    खाते का अधिकतम कार्यकाल 21 वर्ष है।
  • एक बच्चे को केवल एक Sukanya Samriddhi Yojana खाता रखने की अनुमति है।
  • एक परिवार में,अधिकतम 2 बालिकाओं को खाता खोलने की अनुमति है। यह नियम कई गर्भधारण के मामलों में ढील देता है।
  • खाते में राशि को जमा माता-पिता या कानूनी अभिभावक या स्वयं खाताधारक द्वारा किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि खाते डाकघरों और वाणिज्यिक बैंकों में खोले जा सकते हैं जो इस योजना को वितरित करने के लिए अधिकृत हैं।
    खाते में जमा की जाने वाली न्यूनतम जमा राशि रु। 250 है और जमा की जाने वाली अधिकतम राशि प्रति वर्ष रु 1.5 लाख तक सीमित है।
  • जिन खातों में एक वर्ष के लिए न्यूनतम जमा नहीं किया गया है, उन्हें ‘डिफ़ॉल्ट के तहत खाते’ माना जाएगा। खाता खोलने की तारीख से 15 साल के भीतर नियमित किया जा सकता है।
  • वे खाते जो रु 1 लाख की वार्षिक जमा सीमा से अधिक हैं वे अधिकतम राशि से अधिक ब्याज अर्जित करने के योग्य नहीं हैं।
  • खाते में जमा नकद, चेक या ऑनलाइन स्थानांतरण के माध्यम से किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धी योजना के लिए वर्तमान ब्याज दर 7.6% p.a पर निर्धारित है।
  • खाते, जहां पूरे वर्ष में न्यूनतम राशि जमा नहीं की गई है, केवल तभी ब्याज अर्जित करेंगे जब वे पोस्ट ऑफिस के बचत खाते से जुड़े हों।
  • मेच्योरिटी तक पहुंचने के बाद खाता ब्याज अर्जित करना बंद कर देता है। ऐसी स्थिति में, जहां खाताधारक योजना के कार्यकाल के दौरान देश का अनिवासी या गैर-नागरिक बन जाता है, खाते में जमा राशि पर कोई ब्याज नहीं लिया जाता है।
  • परिपक्वता के बाद खाते में जमा हुई राशि को प्राप्त करने के लिए, खाता धारक को एक आवेदन पत्र भरना होगा और बैंक या डाकघर में अपनी पहचान, नागरिकता के प्रमाण और पते के प्रमाण के साथ जमा करना होगा।
    Maturity से पहले निकासी खाते में कॉर्पस के अधिकतम 50% तक सीमित है।
  • खाते में राशि तब वापस ली जा सकती है जब खाताधारक स्कूल में 10 वीं कक्षा पूरी करता है या 18 वर्ष की आयु तक पहुँचता है। खाताधारक की शिक्षा को निधि देने के लिए केवल निकासी की अनुमति है।
  • खाताधारक अपने एसएसवाई खातों को देश के किसी भी डाकघर या बैंकों में बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के स्थानांतरित कर सकते हैं। ऐसे उदाहरणों में जहां हस्तांतरण के लिए आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए गए हैं, खाताधारकों को 100 रुपये का शुल्क देना होगा।

Pm suraksha bima yojana Eligibility Criteria

किसी भी अन्य जमा खाते की तरह, सुकन्या समृद्धि खाते का लाभ उठाने के लिए भी पात्रता मानदंड के एक निश्चित सेट की आवश्यकता होती है। अतः नीचे बताए गए मापदंडों को पूरा करके इस योजना का लाभ उठाया जा रहा है।

सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ बालिकाओं की ओर से बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा लिया जा सकता है। खाता बच्चे के नाम से खोला जाता है और माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा संचालित किया जाता है। निम्नलिखित सुकन्या समृद्धि योजना के लिए पात्रता आवश्यकताएँ हैं।

  • केवल बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक ही लड़की के नाम पर Sukanya Samriddhi Yojana Account खोल सकते हैं।
  • 10 वर्ष की आयु तक बालिका पहुंचने से पहले किसी भी समय योजना का लाभ उठाया जा सकता है
  • खाता खोलने के समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • प्रारंभिक निवेश 250 रुपये से शुरू हो सकता है और 100 रुपये के गुणकों में आगे जमा राशि के साथ अधिकतम 1,50,000 रुपये सालाना हो सकता है।
  • एक कन्या केवल एक ही सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ उठा सकती है
  • प्रति परिवार केवल दो सुकन्या समृद्धी योजना की अनुमति है यानी प्रत्येक बालिका के लिए एक।

SSY Required Documents

दोस्तों जैसा कि हमने ऊपर आप सभी को बताया sukanya samriddhi yojana के लाभ और योजना की विशेषताओं के बारे में और हमने आपको योजना से संबंधित बहुत सारी जानकारी प्रदान की पर अगर आप sukanya yojana में आवेदन करना चाह रहे हैं तो

आपको यह भी पता होना चाहिए कि Sukanya Scheme में आवेदन करने के लिए आपके पास कौन-कौन से दस्तावेज होने आवश्यक हैं सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलते समय आवेदन पत्र के साथ प्रस्तुत किए जाने वाले दस्तावेजों की सूची निम्नलिखित हैं:

  1. कन्या का जन्म प्रमाण पत्र
  2. माता-पिता या कानूनी अभिभावकों की पहचान का प्रमाण पत्र
  3. माता-पिता या कानूनी अभिभावकों के पते का प्रमाण पत्र
  4. Sukanya Yojana Account Opening Form
  5. बच्चे और माता-पिता की तस्वीर

Sukanya Yojana Account Guideline

चूंकि, सुकन्या समृद्धी योजना 2022 सरकार द्वारा जारी की गई योजना है, इसीलिए योजना के ऐसे नियम और दिशा-निर्देश हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए। आइए हम कुछ सबसे महत्वपूर्ण नियमों पर ध्यान दें, जिन्हें सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ उठाने और बनाए रखने के लिए ग्राहकों को पालन करने की आवश्यकता है।

दोस्तों यहां नीचे हम उन सभी नियम और शर्तों के बारे में आप सभी को बताते हैं जिन्हें आप फॉलो करके सुकन्या समृद्धि खाते के बारे में और भी ज्यादा आसानी से समझ सकते हैं और अपने खाते को और भी ज्यादा सुरक्षित कर सकते हैं अगर आप इन सभी नियमों के बारे में समझ जाते हैं तो आप योजना का लाभ बहुत ही आसानी से उठा पाएंगे

1. सुकन्या समृद्धी खाते का समय से पहले बंद होना

सुकन्या समृद्धि खाता का समय से पहले बंद होना विशिष्ट परिस्थितियों में बालिका की मृत्यु हो जाने से है जो खाताधारक है। ऐसी स्थितियों के तहत, खाता बंद कर दिया जाएगा और उसी की कार्यवाही बालिका के कानूनी अभिभावक या माता-पिता को सौंप दी जाएगी। यह खाताधारक के नाम पर वैध मृत्यु प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर किया जाएगा।

2. Sukanya Account  पर लागू निकासी नियम

बालिकाओं के 21 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद जमा राशि की 100% निकासी केवल तभी संभव है। 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद आंशिक निकासी 50% तक जमा राशि के लिए अनुमन्य है। इस आंशिक निकासी की अनुमति केवल तभी दी जाती है जब किसी गंभीर चिकित्सा बीमारी के लिए या उच्च शिक्षा या बालिका के विवाह व्यय के लिए धन की आवश्यकता होती है।

3. SSY Account के तहत अनुमन्य निकासी राशि

खाते में कम से कम 14 साल से सक्रिय होने पर ही जमा राशि की निकासी की अनुमति दी जाती है। 18 वर्ष की आयु से पहले और 21 वर्ष की आयु तक पहुँचने से पहले केवल 50% तक जमा राशि ही निकाली जा सकती है। 18 वर्ष से कम आयु की बच्ची के मामले में किसी भी प्रकार की वापसी, आंशिक या अन्यथा अनुमति नहीं है।

4. Sukanya Samriddhi Yojana खाता बंद करना

सुकन्या समृद्धि खाता केवल एक बार बंद किया जा सकता है जब बालिका 21 वर्ष की आयु तक पहुंच गई हो। किसी भी समय से पहले बंद होने की अनुमति केवल असाधारण परिस्थितियों में दी जाती है जो उपरोक्त खंड में उल्लिखित हैं।

सुकन्या समृद्धी योजना के बारे में सबसे महत्वपूर्ण नियम यह है कि किसी भी प्रकार की निकासी केवल उसी बच्ची द्वारा की जा सकती है, जिसके नाम पर खाते का लाभ उठाया गया है। यह सुविधा भविष्य में महिलाओं को बहुत अधिक वित्तीय स्वतंत्रता देने के लिए योग्य माना जाता है।

योजना के बारे में एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात यह है कि लड़की के विवाह के बाद खाता बंद हो जाता है। साथ ही, 100% राशि की निकासी केवल लड़की द्वारा की जा सकती है और वह भी तब जब वह 21 वर्ष की आयु तक पहुंच जाए।

About Pradhan Mantri Sukanya Samriddhi Yojana

भारत ने पिछले कुछ सालों में कई क्षेत्रों में बहुत प्रगति की है। हालांकि, एक क्षेत्र जहां बदलाव कुछ धीमा रहा है, वह है बालिकाओं से जुड़े मुद्दे। देश में लैंगिक भेदभाव एक मुद्दा बना हुआ है और कई उपायों के बावजूद अभी भी बहुत सुधार की आवश्यकता है। Sukanya Samriddhi Yojana (सुकन्या समृद्धी योजना) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ कार्यक्रम के तहत शुरू की गई यह एक छोटी बचत योजना है।

Sukanya Yojana

माता-पिता को अपनी बेटी की शिक्षा और शादी के लिए पर्याप्त बचत के लिए प्रोत्साहित करने के लिए योजना को 2015 में शुरू किया गया था। योजना का मुख्य लक्ष्य बालिकाओं के प्रति भेदभाव को समाप्त करना और शिक्षा के माध्यम से बालिकाओं के सुरक्षित भविष्य का निर्माण करना है। लैंगिक असमानता आज देश में सबसे अधिक दबाव वाले मुद्दों में से एक है और इसलिए, इस योजना को लिंग संबंधी मुद्दों को खत्म करने की दिशा में एक महान कदम के रूप में देखा जा रहा है। भारत जैसे देश में, जहां पुरुष बच्चे की शिक्षा को प्राथमिकता दी जाती है और जहां लड़कियों की शादी के खर्च को एक बड़ी जिम्मेदारी के रूप में देखा जाता है ।

इसलिए यह योजना लड़कियों को वित्तीय स्वतंत्रता हासिल करने में मदद करेगी और उन्हें उच्च शिक्षा के साथ-साथ शादी के खर्च के लिए पैसे देने में मदद करेगी। सुकन्या समृद्धि योजना की सबसे विशिष्ट विशेषताओं में से एक यह है कि जमा राशि केवल बालिकाओं द्वारा निकाली जा सकती है और यहां तक ​​कि जमाकर्ता (माता-पिता या अभिभावक) को भी लड़की की ओर से धन निकालने की अनुमति नहीं है। सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों के साथ-साथ डाकघर भी हैं, जिन्हें सुकन्या समृद्धी योजना (एसएसवाई) की पेशकश के लिए वित्त मंत्रालय द्वारा अधिकृत किया गया है।

सुकन्या समृद्धी योजना खाता खोलें ऑनलाइन 2022

तो दोस्तों यहां पर अब हम आप सभी को बताते हैं उन सभी बैंकों के बारे में जिनके माध्यम से आप सुकन्या समृद्धि खाते को आसानी से खुलवा सकते सभी बैंकों की लिस्ट नीचे मौजूद है जो आप के नजदीक में ही स्थित हो सकती हैं

नीचे सूचीबद्ध SSY (सार्वजनिक और निजी दोनों) के लिए सभी अधिकृत बैंक हैं जिन्हें वित्त मंत्रालय द्वारा आधिकारिक रूप से Sukanya Yojana खाते खोलने और बनाए रखने की अनुमति दी गई है।

इलाहाबाद बैंक आंध्रा बैंक
ऐक्सिस बैंक Bank OF बड़ौदा (BoB)
बैंक ऑफ इंडिया (BoI) Bank ऑफ महाराष्ट्र (BoM)
केनरा बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (CBI)
कॉर्पोरेशन बैंक देना बैंक
ICICI बैंक आईडीबीआई बैंक
Indian बैंक इंडियन ओवरसीज बैंक (IOB)
ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) पंजाब नेशनल बैंक (PNB)
पंजाब एंड सिंध बैंक (PSB) सिंडीकेट बैंक
यूको बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया Vijaya बैंक
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) State बैंक ऑफ पटियाला (SBP)
स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर (SBBJ) State Bank ऑफ त्रावणकोर (SBT)
स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद (SBH) स्टेट बैंक ऑफ मैसूर (SBM)

योजना की दूसरी स्थिति या समय से पहले बंद होना तब है जब केंद्र सरकार को लगता है कि इस योजना को आगे बढ़ाने के लिए माता-पिता या अभिभावक के लिए यह मुश्किल होता जा रहा है या लगभग असंभव है। उसी के लिए अनुमति केंद्र सरकार द्वारा अत्यधिक शर्तों के तहत जारी की जानी है, जहां एक चिकित्सा परिश्रम या एक गंभीर बीमारी अभिभावक या खाताधारक के माता-पिता को परेशान करती है।

Sukanya Samriddhi Yojana Form PDF Download

दोस्तों अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना के Application Form को डाउनलोड करना चाहते हैं तो यहां पर हमने Form Download करने का Link दिया हुआ है जिस पर क्लिक करके आप आसानी से सुकन्या समृद्धि अकाउंट ओपनिंग फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं

अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन करना चाहते हैं तो आपको डाउनलोड किए गए Form को अपने कंप्यूटर से प्रिंट कर लेना और उसके बाद इसे भरकर अपनी नजदीकी पोस्ट ऑफिस या नजदीकी बैंक में आवश्यकता दस्तावेजों के साथ जमा करा देना है

Sukanaya Yojana Account FAQ

पीएम सुकन्या समृद्धी योजना क्या है?

SSY एक बचत योजना है इस योजना को घरेलू बचत प्रतिशत बढ़ाने के लिए मोदी सरकार की पहल का एक हिस्सा भी माना जा सकता है

सुकन्या समृद्धी योजना कब शुरू हुई?

सुकन्या समृद्धि योजना को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 4 दिसंबर 2014 को शुरू किया गया था

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना खाता कैसे बनता है?

अगर कोई व्यक्ति इस योजना कन्या का खाता खुलवाना चाहता है तो उसे अपनी नजदीकी बैंक में जाकर SSY FORM जमा करना होगा

क्या Sukanya खाते के ब्याज पर कर है?

नहीं! SSY पूरी तरह से छूट (EEE) निवेश है, इसलिए मूल राशि का निवेश किया जाता है, ब्याज के साथ-साथ परिपक्वता राशि भी सभी कर मुक्त हैं।

Sukanya Account के लिए न्यूनतम भुगतान क्या है?

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए न्यूनतम भुगतान राशि नए नियमों के अनुसार ₹250 हैं

क्या बालिका के नाम पर एक से अधिक खाते हो सकते हैं?

नहीं! एक बालिका के नाम पर केवल SSY खाता हो सकता है।

क्या मेच्योरिटी से पहले SSY खाते को बंद करना संभव है?

नहीं! Maturity से पहले Sukanya Acoount को बंद करना संभव नहीं है।

क्या SSY Account का एक बैंक से दूसरे बैंक में स्थानांतरण किया जा सकता है?

Yes! कोई भी व्यक्ति आसानी सी बैंक मैं जाकर अपने खाते का स्थानांतरण कर सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना खाते को Mature होने में कितना समय लगता है?

खाता शुरू होने की तारीख से 21 साल बाद एक SSY खाता Mature होता है।

Follow Us On Social Media 🙏

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes