बढ़ती जनसंख्या पर बहस के बीच सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क बोले- बच्‍चे पैदा करने का ताल्लुक अल्‍लाह से है

जनसंख्या पर शफीकुर रहमान बरक : सीएम योगी के जनसंख्या नियंत्रण कानून पर संभल से सपा सांसद शफीकुर रहमान बर्क का बेतुका बयान एक बार फिर सामने आया है. बर्क ने कहा कि बच्चे पैदा करना अल्लाह से संबंधित है, न कि किसी जाति के व्यक्ति से। अल्लाह खाने-पीने की व्यवस्था करता है और दुनिया को भेजता है। उन्होंने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण कानून पर नहीं बल्कि मुसलमानों की शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए.

शफीकुर रहमान बर्क ने कहा कि जब बच्चे पैदा करने की बात आती है। इसका लोगों से कोई लेना-देना नहीं है। इसका संबंध अल्लाह से है। उन्होंने कहा कि अल्लाह तआला पैदा करने वाले बच्चे के लिए खाने-पीने की व्यवस्था भी करता है।

सपा सांसद के बयान के बाद यूपी के डिप्टी सीएम ने बदला लिया है। उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है। यह एक राजनीतिक मुद्दा है। हम इसकी जांच कर रहे हैं। इस सिलसिले में सीएम योगी ने बयान दिया है. यदि जनसंख्या कम होगी तो आने वाली पीढ़ी अधिक शिक्षित होगी। लोग अच्छा पढ़-लिख सकेंगे।

भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि शफीकुर रहमान का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि बर्क के बयान ने साबित कर दिया कि उनकी शिक्षा ठीक से नहीं हो रही थी। इसी तरह के बयान तब सामने आते हैं जब बुनियादी शिक्षा गद्दे से प्राप्त की जाती है।
राकेश त्रिपाठी ने कहा कि सपा नेता शफीकुर रहमान ने पहली बार ऐसा बयान नहीं दिया है. वह पहले भी इस तरह के बयान दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि सपा नेताओं के बीच आजम खान भी इस तरह के बेतुके बयान देते रहते हैं. उन्होंने कहा कि जनसंख्या का मुद्दा एक ऐसा मुद्दा है जिससे देश की अखंडता और सुरक्षा का सवाल जुड़ा है.

आपको बता दें कि विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम में बोलते हुए सीएम योगी ने कहा था कि ”एक ही वर्ग की आबादी बढ़ने से अराजकता फैलेगी, आबादी में असंतुलन नहीं होना चाहिए.” प्रधानमंत्री ने कहा था कि जब हम परिवार नियोजन और जनसंख्या की बात करते हैं तो हमें यह याद रखना चाहिए कि जनसंख्या नियंत्रण कार्यक्रम जारी रहना चाहिए, लेकिन जनसांख्यिकी और असंतुलन की स्थिति पैदा नहीं होनी चाहिए। ऐसा न हो कि किसी वर्ग की जनसंख्या वृद्धि की दर अधिक हो। स्वदेशी लोगों की आबादी के स्तरीकरण में जागरूकता के माध्यम से संतुलन बनाएं।

प्रधानमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह चिंताजनक है कि जिस देश में जनसंख्या असंतुलन की स्थिति पैदा होती है, उसका विपरीत प्रभाव पड़ता है। कुछ समय बाद वहां अराजकता का जन्म होने लगता है।

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes