जब देश के एक गोल्डमैन की हुई नृशंस हत्या और गायब हो गई सोने की शर्ट, पढ़िए पूरा किस्सा

देश के एक स्वर्णकार दत्ता फुगे की हत्या जितनी भयावह थी, उसकी सोने की कमीज का गायब होना भी अपने आप में एक बड़ा रहस्य था। दत्ता फुगे की हत्या के बाद पता चला कि उनकी 3 किलो वजनी 22 कैरेट सोने की शर्ट गायब थी।

आज देश के गोल्डमैन दत्ता फुगे की बात हो रही है, जिनकी हत्या ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। फिर कुछ दिनों बाद पता चला कि उसकी सोने की शर्ट भी गायब थी। 14 जुलाई 2016 की एक रात उसकी हत्या कर दी गई और फिर सोने की कमीज रहस्यमय तरीके से गायब हो गई। इस रहस्य ने पुलिस को भ्रमित कर दिया, लेकिन जब घटना हुई तो कमीज भी नहीं मिली। इस शर्ट की वजह से दत्ता फुगे का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया था।

पुणे के रहने वाले दत्ता फुगे बिजनेसमैन थे। चिटफंड और फाइनेंस में काम करने वाले दत्ता फुगे तब सुर्खियों में आए जब उन्होंने 1.5 करोड़ की सोने की शर्ट पहनी थी। पूरी दुनिया में उनकी चर्चा हुई और तब उन्हें भारत का स्वर्ण पुरुष कहा गया। लेकिन 14 जुलाई 2016 को उनके बेटे शुभम के सामने ही उनकी हत्या कर दी गई। घटना के वक्त उसने साधारण शर्ट पहनी हुई थी।

पुलिस द्वारा पूछताछ के दौरान, शुभम ने कहा कि अतुल मोहिते नाम के एक दोस्त ने उसे और उसके पिता को उस रात एक पार्टी में आमंत्रित किया था। जब वह कुछ सामान लेकर लौटा तो उसने देखा कि इसी बीच अतुल मोहिते और उसके साथियों ने फुगे को घेर लिया और उसकी हत्या कर दी। कोई चाकू से घुटने टेक रहा था तो कोई पथराव कर रहा था। शुभम जब वहां पहुंचा तो सभी भाग चुके थे। जब रहस्य का खुलासा हुआ तो फुगे के बेटे के दोस्त ही उसके हत्यारे निकले, लेकिन यह हत्या पैसे के लिए की गई।

दरअसल दत्ता फुगे ने कई लोगों के वक्रतुंडा धन के नाम पर उनके धन को जब्त कर लिया था। लोग फुगे से अपना पैसा वापस चाहते थे लेकिन दत्ता फुगे के 20-30 अंगरक्षकों ने किसी को इधर-उधर नहीं जाने दिया। वहीं दत्ता फुगे लोगों के बीच एक सेलिब्रिटी बन गए थे। सैकड़ों लोग अपने पैसे को लेकर चिंतित थे और इस हत्या का परिणाम था। लेकिन इन घटनाओं के बीच दत्ता फुगे की शर्ट गायब हो गई।

दत्ता के परिवार के सदस्य और शर्ट बनाने वाले शहर के नामी जौहरी ने एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए। 1.5 करोड़ की सोने की शर्ट के ऊपर से एक नामी कारोबारी की हत्या के गायब होने से पुलिस के होश उड़ गए। जांच से पता चला कि दत्ता फुगे एक कानूनी व्यवसायी थे, क्योंकि उन पर कई लोगों द्वारा धोखाधड़ी का मुकदमा चलाया गया था। फ्यूज के पास अतुल मोहिते के हिस्से के 1.5 लाख रुपये भी थे, लेकिन गोल्डमैन के साथ उनकी शर्ट भी गायब हो गई थी।

इस मामले में कई बातें सामने आईं कि फुगे की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी, इसलिए हो सकता है कि उन्होंने जर्सी बेच दी हो। अब परिवार लोगों को पैसे देने से बचना चाहता है, इसलिए उन्होंने स्वेटर को चला गया कहा। दत्ता फुगे की 3 किलो वजन की शर्ट को शहर के रांका ज्वैलर्स ने बनाया था। परिजन कहते रहे कि शर्ट ज्वैलर्स के पास है और ज्वैलर्स इस बात से हमेशा इनकार करते रहे। इस मामले में आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया गया लेकिन कमीज गायब रही।

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes