उत्तराखंडः कैलाश यात्रा से लौट रहे यात्री 36 घंटे तक फंसे, हेलीकॉप्टरों के जरिए 40 को सरकार ने किया रेसक्यू

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर जा रहे 40 यात्री उत्तराखंड में फंसे हुए थे, जिन्हें सरकार ने बचाकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। ये सभी 40 यात्री 36 घंटे तक फंसे रहे। उत्तराखंड में भी लगातार बारिश हो रही है, जिससे लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। तीर्थयात्री कैलाश मानसरोवर यात्रा से लौट रहे थे और इसी दौरान वे उत्तराखंड के बूंदी में फंस गए।

पिथौरागढ़ जिला प्रशासन ने हेलीकॉप्टर से यात्रियों को बचाया और सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। यात्रियों को बचाने के लिए हेलीकॉप्टर को 8 बार उड़ान भरनी पड़ी। यात्रियों को बचाकर धारचूला मुख्यालय ले जाया गया, जिसके बाद तीर्थयात्रियों को वाहन से उनके गंतव्य के लिए रवाना किया गया। बचाए जाने के बाद सभी यात्रियों ने जिला प्रशासन और सरकार के प्रति आभार जताया.

घटना की जानकारी देते हुए धारचूला एसडीएम ने बताया कि उत्तराखंड में कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग पर जगह-जगह भारी पत्थर गिरे थे, जिससे रास्ता बंद था. करीब 36 घंटे तक फंसे फंसे यात्रियों को हेलीकॉप्टर से धारचूला ले जाया गया।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में मौसम बेहद खराब है और बारिश की वजह से कई जगह भूस्खलन हो चुका है. रुद्रप्रयाग में बद्रीनाथ ऋषिकेश हाईवे भी बंद है। उत्तराखंड में कई सड़कें अवरुद्ध हैं और मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि रविवार को भी उत्तराखंड में भारी बारिश हो सकती है। इसलिए लोगों को घरों में ही रहने की सलाह दी गई है।

आपको बता दें कि इससे पहले 8 जुलाई को अमरनाथ यात्रा के दौरान बादल फटने से 17 तीर्थयात्रियों की मौत हुई थी, जबकि 40 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. प्रशासन करीब 3 दिनों से राहत और बचाव कार्य कर रहा था। अमरनाथ यात्रा 11 जुलाई को फिर से शुरू हुई। अमरनाथ यात्रा के दौरान सेना ने सैकड़ों तीर्थयात्रियों को बचाया और काफी मशक्कत के बाद अमरनाथ यात्रा फिर से शुरू हुई।

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes