असम से प्रेस लिखित गाड़ी में 350 किलो गांजा लेकर आए तस्कर, यूपी और बिहार में पहुंचाना होगा

गाजीपुर: यूपी के गाजीपुर में एक ओवी (आउटडोर ब्रॉडकास्ट) कार जैसी प्रेस में लिखी गाड़ी से भारी मात्रा में गांजा बरामद किया गया है. बताया जाता है कि तस्करी के लिए इस्तेमाल की जाने वाली गाड़ी पर पुलिस को धोखा देने के लिए फर्जी रजिस्ट्रेशन के साथ प्रेस लिखा हुआ था. पुलिस को इन तस्करों के पास से साढ़े तीन चौथाई गांजा बरामद हुआ है। जब्त किए गए गंजन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 28 से 30 लाख रुपये के बीच बताई जा रही है.

इस मामले के बारे में एसपी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि असम से कुछ लोग गाजीपुर होते हुए बिहार या कहीं और गांजा लेकर आने की कोशिश कर रहे हैं. इस सूचना पर गहमर थाना पुलिस ने बिहार सीमा पर कर्मनाशा नदी के पास चेकिंग शुरू की. इस दौरान एक मॉडल वाहन को प्रेस द्वारा लिखी गई ओवी (आउटडोर ब्रॉडकास्ट) वैन के रूप में आते देखा गया। उस पर हरियाणा का नंबर था। ओवी (आउटडोर ब्रॉडकास्ट) का उपयोग टीवी चैनलों द्वारा स्टूडियो के बाहर कार्यक्रम को लाइव प्रसारित करने के लिए किया जाता है। न्यूज नॉर्थ ईस्ट लिखी प्रेस आईडी भी गाड़ी में रखी हुई थी।

हथियारों के साथ गिरफ्तार असम के दो आरोपियों से पुलिस ने पूछताछ की और वाहन के जरिए संदिग्धों की तलाशी ली. पुलिस को नकली ओवी कारों से 33 बंडलों में करीब साढ़े पांचवां गांजा मिला है। वहीं, तस्करों के पास से दो अवैध हथियार भी बरामद किए गए हैं। गिरफ्तार किए गए दोनों तस्कर असम के रहने वाले हैं। उनकी पहचान मोकिबुल हुसैन और महिदुल इस्लाम के रूप में हुई है।

यूपीपी और बिहार में अस्थाई आपूर्ति
एसपी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि ये गिरोह गांजा लेकर असम से यूपी-बिहार जिले में पहुंचे. गिरफ्तार तस्कर अंतरसरकारी गिरोह के संचालक हैं। एसपी के मुताबिक तस्कर गांजा लेकर गए थे, इन लोगों को भी ट्रेस कर लिया गया है और इनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं. गिरफ्तार किए गए दो तस्करों के मोबाइल फोन के जरिए गिरोह से जुड़े अन्य लोगों को लेने की तैयारी की जा रही है.
रिपोर्ट – अमितेश कुमार सिंह

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes