अनपढ़ कातिल तीन साल तक पुलिस को करता रहा गुमराह, फिर एक लाइन से सुलझ गया केस

अलीगढ़ में एक अनपढ़ हत्यारा 2013 में हत्या कर देता है और फिर साढ़े तीन साल तक एसएसपी से लेकर कोतवाल तक कई सालों तक ठगी करता रहा। लेकिन अंत में उनके द्वारा बोली गई एक लाइन ने सब कुछ हल कर दिया।

आज एक ऐसे हत्यारे की बात हो रही थी जो अनपढ़ था, लेकिन उसने हत्या की पटकथा इस तरह लिखी कि अलीगढ़ में पुलिस उसे साढ़े तीन बजे तक ढूंढती रही। साल बीत गए और एक पुलिस अधिकारी लापता व्यक्ति का पता नहीं लगा सका। उसने यह कैसे किया, वह जो मर गया था। साढ़े तीन साल से अधिक समय बीत गया और पुलिस मामले को बंद करने ही वाली थी कि कई हत्यारों ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

देवेंद्र शर्मा नाम का शख्स 12 दिसंबर 2013 को अलीगढ़ पार्क थाने पहुंचा। देवेंद्र शर्मा का कहना है कि इस अपहरण के पीछे फरीदाबाद के जवाहर कॉलोनी के रहने वाले जय नाम के युवक का हाथ है। देवेंद्र मूल रूप से अलीगढ़ का रहने वाला था, लेकिन रोजगार के कारण वह अपने परिवार के साथ जवाहर कॉलोनी, फरीदाबाद में रहता था।

देवेंद्र के मुताबिक उसकी बेटी जो 12वीं कक्षा में पढ़ रही थी, 3 दिसंबर को अलीगढ़ में अपने चाचा के घर अखबार देने आई थी। तब पुलिस ने अपहरण व पोक्सो कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी। पुलिस जब आरोपी जय की तलाश में फरीदाबाद गई तो पता चला कि वह खुद गायब हो गया था और उसकी मां ने भी रिपोर्ट कर दी थी। कुछ दिनों की तलाश के बाद, पुलिस शांत हुई कि दोनों प्यार में हो सकते हैं और कुछ दिनों में वापस आ जाएंगे।

दो साल बीत गए लेकिन कुछ पता नहीं चला और इस बीच लड़की के पिता भी थाने का चक्कर लगाते रहे। एक सितंबर 2015 को देवेंद्र लड़की को लेकर सीधे अलीगढ़ एसएसपी पहुंचे। देवेंद्र ने कहा साहब को देख आरोपी लड़की को गर्भवती कर भाग गया। थाने की पुलिस चाहती तो कुछ नहीं होता। फिर कहानी सुनाई कि जय लड़की को मथुरा ले गया और वहां उसके साथ दुष्कर्म किया जिससे लड़की गर्भवती हो गई। यह सुनते ही पुलिस के कान खड़े हो गए।

इस मामले में फिर एक साल बीत गया और सितंबर 2016 में तत्कालीन आईपीएस अधिकारी राजेश पांडे देवेंद्र ने पूछा कि- हम सगाई कर रहे हैं लेकिन आप बताओ आरोपी कहां होगा? इस पर देवेंद्र भड़क गए और बोले, ”क्या कहें साहब, ट्रेन से कटकर उनकी मौत हुई होगी.” पुलिस ने ब्रेनवॉश कर जीआरपी से रेलवे ट्रैक पर मिले शवों के बारे में पूछा तो सूची में जय का नाम भी मिला।

अब जब पुलिस सख्ती से पूछताछ कर रही है तो देवेंद्र ने राज उगल दिया। बताया कि लड़की के चाचा प्रमोद ने जय को लड़की के साथ घर में देखा था, इसलिए हमने मिलकर उसे मार डाला। हत्या के बाद जय को रेलवे कार पर फेंका गया और फिर चुपचाप लड़की से शादी कर ली। पता चला कि लड़की अपने पति से गर्भवती थी और बाद में उसने एक बच्चे को जन्म भी दिया। वहीं जय की फर्जी कहानी को लेकर उसके अपहरण-बलात्कार के प्रकरण दर्ज किए गए।

Leave a Comment

Aadhaar Card Status Check Online PM Kisan eKYC Kaise Kare Top 5 Mallika Sherawat Hot Bold scenes